आष्टा : कोरोनाकाल में परेशान मरीजों के लिए मसीहा बने डॉक्टर हेमंत वर्मा

आष्टा कोरोनाकाल में परेशान मरीजों के लिए मसीहा बने डॉक्टर हेमंत वर्मा

कोरोना महामारी का प्रकोप जब अपनी चरम सीमा पर था तो ऐसे समय में मरीज दूसरों के लिए और हॉस्पिटल के लिए परेशान होते हुए देखे गए इंदौर और भोपाल के लगभग सभी हॉस्पिटल अपनी पूर्ण क्षमता के साथ चल रहे थे ऐसे समय में आष्टा विधानसभा के मरीज भी बिस्तर के लिए मारे मारे फिर रहे थे ऐसे समय में भोपाल में हमीदिया हॉस्पिटल में पदस्थ प्रसिद्ध एमडी फिजिशियन एवं हमीदिया हॉस्पिटल के ए आर टी सेंटर के प्रमुख चिकित्सक डॉ हेमंत वर्मा इन मरीजों के लिए सच्चे कोरोना वारियर के रूप में सामने आए ,जो मरीज उनके पास पहुंचा उस मरीज को बिस्तर की उपलब्धता करवाई गई उनसे जितनी बन पड़ी उतनी मदद उन्होंने मरीज की की वह एक ऐसा समय का जब इंदौर और भोपाल के डॉक्टर किसी से सीधे मुंह बात नहीं करते थे ऐसे समय में डॉ हेमंत वर्मा मरीजों के लिए अग्रणी पंक्ति में खड़े हुए नजर आए फिर चाहे वह हमीदिया हॉस्पिटल हो या कोई अन्य

डॉ हेमंत वर्मा के निर्देशानुसार आष्टा में सिद्धार्थ कोविड केयर सेंटर खोला गया जहां पर कई गंभीर मरीजों को उनके मार्गदर्शन में भर्ती किया गया डॉ मुकेश इंदौरिया और डॉक्टर हेमंत वर्मा दोनों की जोड़ी ने ऐसा कारनामा कर दिखाया जिसकी सभी सराहना कर रहे हैं उन्होंने शत-प्रतिशत परिणाम देते हुए कई गंभीर मरीजों का उपचार किया और सफलतापूर्वक उन्हें स्वास्थ्य करके घर भेजने में भी सफल रहे हैं किंतु इस विकराल समय में अगर कुछ डॉक्टर इनकी तरह जनसेवा करते रहेंगे तो हम कोरोना जैसी घातक बीमारी से जल्द निपट सकेंगे डॉ हेमंत वर्मा जैसे सच्चे कोरोना वारियर को सीहोर न्यूज़ दर्पण सलाम करता है

error: Content is protected !!