Take a fresh look at your lifestyle.

दिल्ली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल, आष्टा के छात्र-छात्राओं ने किया वृद्धाश्रम एवं सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्री का शैक्षिक भ्रमण।

0 13
*दिल्ली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल, आष्टा के छात्र-छात्राओं ने किया वृद्धाश्रम एवं सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्री का शैक्षिक भ्रमण।*
बच्चों में शैक्षिक ही नहीं बल्कि नैतिक, मौलिक, क्रियात्मक और भावनात्मक गुणों क विकास के लिए प्रयासरत शहर के दिल्ली वर्ल्ड पब्लिक स्कूल, आष्टा द्वारा छात्र-छात्राओं को ‘अपना घर’ वृद्धाश्रम सीहोर एवं सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्री किलेरामा का शैक्षिक भ्रमण कराया गया।
आज के समय में शिक्षा का मतलब सिर्फ किताबी ज्ञान देना नहीं है। बल्कि इसका मतलब यह भी है ,कि बच्चों को अपने आस- पड़ोस  के बारे में जागरूक करना, जिसका वे हिस्सा हैं।  जब बच्चे अपने परिवेश के साथ सामंजस्य बिठाते हैं तो सीखना सार्थक और मज़ेदार हो जाता है। विद्यालय के संचालकगण सैय्यद परवेज़ अली, श्रीमती पायल अली, श्री बहादुर सिंह सेंधव, श्री ज्ञान सिंह ठाकुर, प्राचार्या श्रीमती सुनैना शर्मा के नेतृत्व में विद्यालय के छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने ‘अपना घर’ वृद्धाश्रम एवं ‘सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्री’ किलेरामा का शैक्षिक भ्रमण किया। जिसमें कक्षा एक से तीन तक के छात्र-छात्राओं  ने वृद्धाश्रम में रह रहे वृद्धों को फल, सब्जी, अनाज, बिस्किट और अन्य दैनिक उपयोगी वस्तुएं वितरित की और दिनचर्या एवं स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के बारे में विस्तार से जानकारी ली। विद्यार्थियों ने आश्रम की गतिविधियों की जानकारी के साथ ही वृद्धाश्रम में वृद्धों को कौन-कौन सी समस्याएं आ रही है उन्हें वृद्धाश्रम में कौन-सी सुविधाएं प्रदान की जा रही है,  उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया जाता है या नहीं। प्रतिदिन की दिनचर्या में उनकी दिन की शुरुआत कैसे होती है ,उनके लिए मनोरंजन के कौन-कौन से साधन है, यह सभी जानकारी भ्रमण के दौरान विद्यार्थियों द्वारा ली गई।
छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने आश्रम कर्मियों एवं वृद्धों को अपने स्वस्थ एवं ऊर्जा पूर्ण जीवन के लिए टिप्स दिए। इसी क्रम में कक्षा चौथी और पांचवीं के  छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों ने  ’सात्विक एग्रो फूड इंडस्ट्री’ किलेरामा का भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान छात्र-छात्राओं ने गेहूं से आटा, सूजी और दलिया बनाने की प्रक्रिया के बारे में जाना। इंडस्ट्री के संचालक श्री विकास जैन द्वारा बच्चों को बारीकी से इंडस्ट्री में संचालित आटोमैटिक कंप्यूटराइजड मशीनरी और उनके उत्पाद के  बारे में बताया। साथ ही विद्यालय के  छात्र-छात्राओं द्वारा बड़ी जिज्ञासा से  इंडस्ट्री का भ्रमण करते हुए प्रश्न भी पूछे। विद्यालय परिवार द्वारा छात्र-छात्राओं को इस शैक्षिक भ्रमण को  जीवन में उतार कर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!