Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर : मुद्रक और प्रकाशक का नाम पता जरूरी

0 0


सीहोर, 13 मार्च2019

            कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गणेश शंकर मिश्रा ने लोकसभा निर्वाचन 2019 के दृष्टिगत चुनाव प्रचार के लिए छपवाए जाने वाले बैनर,पोस्टर और पम्पलेट के संबंध में लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम की धारा 127 ए में किए प्रावधानों का पालन सुनिश्चित करने के लिए सभी मुद्रक और प्रकाशकों को निर्देश दिए हैं। सभी मुद्रित सामग्री में प्रकाशक-मुद्रक के नाम के साथ ही संख्या का भी उल्लेख करना अनिवार्य होगा।  

      कोई भी व्यक्ति एसी निर्वाचन पुस्तिका या पोस्टर मुद्रित तथा प्रकाशित नहीं कराएगा जिस पर मुद्रक और प्रकाशक के नाम पते नहीं  होंगे। उपबंधों के पालन में दिए गए निर्देशों के तहत मुद्रक द्वारा मुद्रित सभी निर्वाचन संबंधी पम्पलेटों, पोस्टर्स या इसी तरह की अन्य सामग्री के मुखपृष्ठ पर मुद्रक एवं प्रकाशन के नाम-पते अंकित किए जायेंगे। मुद्रक प्रकाशक से घोषणा पत्र एवं मुद्रित सामग्री की 4 प्रतियां सामग्री मुद्रित किए जाने के तीन दिनों के भीतर जिला निर्वाचन अधिकारी को भेजी जायेगी। मुद्रक द्वारा उल्लेखित पत्रों के साथ भी अपने हस्ताक्षर से प्रस्तुत की जायेगी। निर्देशों का पालन न होने की दशा में मुद्रक का प्रेस लायसेंस निरस्त करने के साथ अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जा सकेगी। जो व्यक्ति उपधारा (1) या उपधारा (2) के उपबंधों में से किसी का उल्लंघन करेगा उसे छह माह तक का कारावास या दो हजार रुपए के जुर्माने से दंडित किया जा सकता है।  

      कानून के उपरोक्त प्रावधानों और आयोग के निर्देशों को लागू करने वाले किसी अधिकारी को इस संबंध में अपने कर्तव्यों के निर्वाहन में असफल पाए जाने पर सरकारी ड्यूटी के उल्लंघन के लिए उनके विरुद्ध संभाव्य अपेक्षित किसी भी दंडित कार्यवाही के अलावा कड़ी अनुशानात्मक कार्यवाही भी की जाएगी। एम.सी.एम.सी. कमेटी से स्क्रीनिंग कराने के पश्चात की मुदण किया जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!