Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर : 11 जानलेवा बीमारियों से बचाने मिशन इंद्रधनुष अभियान की शुरूआत

0 21

11 जानलेवा बीमारियों से बचाने मिशन इंद्रधनुष अभियान की शुरूआत

जिले में हुई प्रथम चरण की शुरूआत

सीहोर 0दिसंबर,2019

     राष्ट्रीय सघन मिशन इन्द्र धनुष अभियान 2.0 का प्रारंभ 2 दिसंबर को जिले के चिन्हित टीकाकरण केन्द्रों पर किया गया। टीकाकरण स्थल पर जनप्रतिनिधियों की प्रमुख उपस्थिति में स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं द्वारा 0 से 05 साल तक के बच्चों तथा गर्भवती महिलाओं को छूटा हुआ टीका लगाया गया।

     राष्ट्रीय सघन मिशन इंद्रधनुष 2.0 अभियान के अंतर्गत सात जानलेवा बीमारियों से बचाव के टीकें अभियान संचालित कर लगाए जाएंगे। राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम का उद्देश्य शिशुओं एवं गर्भवती महिलाओं में होने वाली 11 जानलेवा बीमारियों पोलियो, टीबी, हेपेटाइटिस-बी, काली खांसी, गलघोंटू, टिटेनस, दस्त रोग,निमोनिया,खसरा रूबेला,एवं हिब से बचासव करना तथा शिशु एवं बाल मृत्यु दर में आशातीत कमी लाना है। यह टीकें बच्चों को जन्म के समय, डेढ़ माह, ढाई माह,साढे़ तीन माह,9 माह, डेढ़ साल तथा 5 साल की आयु के अंतराल पर लगाए जाते है।

     मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.प्रभाकर तिवारी के अनुसार दिसंबर माह में प्रथम चरण का आयोजन 2 से 12 दिसंबर तक किया जाएगा। जिसमें जिसमें दिनांक 2, 4, 5, 7, 9, 11, 12 दिसंबर 2019 सम्मिलित होंगे। प्रथम चरण में कुल 493 टीकाकरण सत्रों का आयोजन कर 1479 बच्चों को टीकाकृत किया जाएगा। अभियान के अंतर्गत 597 गर्भवती महिलाओं का भी टीकाकरण किया जाना है। अभियान का द्वित्तीय चरण 06 जनवरी से 16 जनवरी 2020, तृतीय चरण 3 फरवरी से 13 फरवरी 2020 तथा तृतीय चरण 2 मार्च 12 मार्च 2020 तक संचालित होगा। अभियान के अंतर्गत 0 से 5 वर्ष तक सभी बच्चों का टीकाकरण किए जाने का लक्ष्य निर्धारित है। ग्यारह जानलेवा सुरक्षित एवं असरकरी टीके लगवाना तथा अपने बच्चे का संपूर्ण टीकाकरण करवाना अभियान का मुख्य उद्देश्य हैं। अभियान के प्रचार-प्रसार के लिए ग्राम स्तर तक आशा कार्यकर्ताओं एवं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं के माध्यम से अंर्तव्यैक्तिक संवाद द्वारा आमजन को स्वास्थ्य विभाग द्वारा उपलब्ध कराएं गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!