Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर :लिकर एसोसिएशन शराब दुकानें खोलने के पक्ष में नही-अखिलेश रॉय

0 351

प्रदेश में शराब दुकानों को लेकर उठापटक जारी है ग्रीन जॉन और ऑरेंज जोन में राज्य सरकार के आये नए आदेश से शराब कारोबारीयो की चिंता बढ़ा दी है ।शराब कारोबारियों को भी अब कोरोनो का भय सताने लगा है ।
ज्ञात रहे कि बीते दिन मध्यप्रदेश सरकार ने आज दिनांक से प्रदेश के ग्रीन और ऑरेंज जॉन में शराब की दुकानें खोलने के आदेश जारी किये है लेकिन सरकार के सामने अब शराब कारोबारियों के फैसले ने मुश्किल खड़ी कर दी है ।
दरअसल लिकर एसोसिएशन शराब दुकानें खोलने के पक्ष में नही है ।इसी कारण आज सीहोर जिले की तमाम शराब दुकानें बंद कर विरोध जताया है।
वही आज सीहोर में लिकर एसोसिएशन अध्यक्ष अखिलेश राय ने प्रेस से चर्चा करते हुए कहा कि एसोसिएशन के सदस्यों ने कल SCS मोहदय के समक्ष प्रस्तुत हुए थे वह हमारी मीटिंग थी वह हमने यह प्रस्ताव रखा था की जो देश मे अभी कोरोनो वायरस चल रहा है और तब तक प्रदेश में लोकडाउन है जब तक शराब की दूकाने नही खोली जाय ।क्योकि मान लीजिए ग्रीन,ऑरेंज जॉन में दुकानें खुली है वही रेड जॉन की होल से हमारे कर्मचारी,स्टाफ अंग्रेजी लेने गए और रेड जॉन में कोई संक्रमण है तो वह हमारे ग्रीन और ऑरेंज जॉन में भी संक्रमण आ जाएगा ।इसलिए आज प्रदेश के सभी जिलों में शराब की दूकान बंद कर विरोध जताया गया! आज सीहोर जिले की सभी शराब की दुकानें प्रदेश लिकर एसोसिएशन के आव्हान पर बंद रहने से शराब के शौकीन लोगो मे काफी निराशा देखने को मिली …प्रदेश सरकार ने हालांकि आज से सम्पूर्ण प्रदेश में रेड ,ग्रीन और ऑरेंज जॉन के आधार पर सशर्त वाईन शाप खोलने की शुरुआत की …मगर प्रदेश की लिकर एसोसिएशन अपनी शर्तों के अनुरूप लिकर की शाप खोलना चाहती थी … इसलिए आज प्रदेश में लिकर एसोसिएशन के आव्हान पर शराब की दुकाने बंद रखी गई है … …

सीहोर में निवास करने वाले प्रदेश लिकर एसोसियेशन के अध्यक्ष अखिलेश राय ने स्थानीय मीडिया से चर्चा करते हुए बताया कि हम लॉक डाउन में पूरी तरह लिकर व्यापार बंद रखने के पक्षधर … कल भोपाल में हमारी एसोसिएशन ने आबकारी आयुक्त से इस बारे में विस्तार से चर्चा भी की थी …दरअसल हमने सरकार से निवेदन किया है कि कोरोना महामारी में लिकर कारोबार बंद रखकर हम भी सहयोग देना चाहते है ..अगर हम शराब का कारोबार शुरू कर दे हमे रेड ज़ोन से माल मंगवाना पड़ेगा और कर्मचारी भेजने पड़ेंगे …जिससे कोरोना पॉजिटिव होने के बहुत चांसेस है …साथ ही इस लॉक डाउन के चलते पूरा आर्थिक बाजार भयंकर मंदी के दौर में रहेगा …ऐसे में हमारा वर्तमान आबकारी शर्तो में काम करना मुश्किल हो गया है …इसलिए मध्य प्रदेश लिकर एसोसिएशन चाहती कि उत्तर प्रदेश सरकार की तरह यहां की सरकार वर्ष 2020 की सेवा शर्तों के मुताबिक कमीशन का डिडक्शन करे ताकि हम कारोबार कर सके ….

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!