Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर: टेंशन से बचने और अपनी जिंदगी का सुखद आनंद लेने के लिए ध्यान करना बहुत जरूरी है -आनंदिता बसु

0 39

मेरा कौन दिखाए रास्ता मैं सूफी हूँ सरवासता दमादम मस्त कलंदर की प्रस्तुतियों से आंनदिता बसु ने समा बंधा टेंशन से बचने और अपनी जिंदगी का सुखद आनंद लेने के लिए ध्यान करना बहुत जरूरी है -आनंदिता बसु
सीहोर। नूर-ए-खुदा, दमादम मस्त कलंदर, मेरा पिया घर आया, मेरा कौन दिखाए रास्ता मैं सूफी हूँ सरवासता, जागो कुंडलनी माँ करो सब पर कृपा आदि भजनों की प्रस्तुतियां देते हुए कोलम्बिया से पधारी सूफी संगीत गायिका आनंदिता बसु ने उपस्थित जनसमूह को ऐसा मंत्र मुग्ध किया कि लोग नृत्य करने के लिए विवश हो गए। उन्होंने अपनी समधुर आवाज में भजनों की प्रस्तुतियों के साथ लोगों को ध्यान के माध्यम से तनाव रहित जीने की कला भी सिखाई। मंगलवार की शाम ब्ल्यू बर्ड स्कूल भोपाल नाका पर सहज योग परिवार सीहोर द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में सीहोर एवं बाहर से आए सहज योगियों एवं शहर के प्रबुध श्रोता उपस्थित थे।  सहज योग परिवार द्वारा आयोजित आत्म साक्षात्कार के इस कार्यक्रम की शुरुआत पालकी यात्रा से की गई, पालकी यात्रा ब्ल्यू बर्ड स्कूल सिंधी कॉलोनी से शुरु होकर शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए ब्ल्यू बर्ड भोपाल नाका पहुंंची संगीत कार्यक्रम की शुरुआत पूज्य माता श्री निर्मला देवी के चित्र के समक्ष पुष्प गुच्छ भेंट कर भगवान श्री गणेश की आराधना से की गई, जिसके बाद कोलम्बिया से पधारी गायक कलाकार ने एक से बढ़्कर एक भजनों से लोगों का दिल जीत लिया, उन्होने ध्यान का महत्व बताते हुए कहा की आज की भाग दौड़  भरी जिंदगी में एक भी ऐसा व्यक्ति नहीं है जिसे टेंशन न हो, और उस टेंशन से बचने और अपनी जिंदगी का सुखद आनंद लेने के लिए ध्यान करना बहुत जरूरी है। आनंदिता बसु का परिचया देते हुए जयंत दासवानी ने बताया कि आनंदिता बसु भारत में पैदा हुई और चार वर्ष की आयु से संगीत का प्रशिक्षण अपनी माँ से लेना शुरु कर दिया था, भारत के कई सम्मानों से सम्मानित, उन्हे नृत्य, संगीत और तबले में संगीत विशारद और संगीत प्रभाकर जैसी सबसे महत्वपूर्ण और मान्यता प्राप्त रेंक मिली। आनंदिता बसु अब तक बीस से अधिक देशो में कार्यक्रम दे चुकी हैं उन्होने नूर-ए-खुदा, दमादम मस्त कलंदर,मेरा पिया घर आया, मेरा कौन दिखये रास्ता में सूफी हूँ सरवासता, जागो कुंडलनी माँ करो सब पर कृपा जैसे भजनों की प्रस्तुति दी भजनो के साथ साथ उन्होने ध्यान की बुनियादी जानकारी भी सभी को दी, कुछ देर ध्यान कराने के बाद फिर भजनो की प्रस्तुति दी।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में जिला पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल, नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा, समाजसेवी अरुणा सुदेश राय मोजूद थे। भजन गायिका और उनकी टीम का सीहोर नगर की ओर से नगर पालिका अध्यक्ष अमीता अरोरा ने स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन बसंत दासवानी ने किया कार्यक्रम के अंत में साई भक्त परिवार और सहज योग परिवार की महिला विंग ने आनंदिता बसु एवं उनके साथ आए वादयंत्र वादकों का स्मृति चिन्ह भेंट कर आभार माना।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!