Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर : कोरोना से हुईं मृत्यु का एनालिसिस कर रिपोर्ट दें-मुख्यमंत्री

0 1

कोरोना से हुईं मृत्यु का एनालिसिस कर रिपोर्ट दें-मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना से हुई एक-एक मृत्यु का डिटेल्ड एनालिसिस कर नियमित रूप से रिपोर्ट दें। हमें कोरोना मरीजयों को सर्वोत्तम इलाज उपलब्ध करवाकर कोरोना मृत्यु-दर को कम करना है। इलाज में थोड़ी भी लापरवाही होने पर सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कोरोना कार्य में लापरवाही पाए जाने पर दो अधिकारिययों को निलंबित करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने मंत्रालय में वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाअयों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए।

अनावश्यक रूप से मरीजों को दूसरे अस्पताल में रैफर न करें- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जिन जिलयों/अस्पतालयों में कोविड इलाज की सुविधा उपलब्ध है, वे अनावश्यक रूप से मरीजयों को दूसरे जिले अथवा दूसरे अस्पतालयों में रैफर न करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गत दिवस हमीदिया अस्पताल से चिरायु अस्पताल रैफर किए गए दो मरीजयों के मामले में तुरंत जाँच कर रिपोर्ट देने के निर्देश दिए।

संक्रमित क्षेत्रों में हो प्रभावी नियंत्रण- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि संक्रमित क्षेत्रयों में आंतरिक आवा-जाही नहीं होनी चाहिए, अन्यथा वहां संक्रमण फैलेगा। इन क्षेत्रयों में गाइड लाइन अनुसार प्रभावी नियंत्रण सुनिश्चित किया जाए।

सैम्पल लेने के बाद आयसोलेशन में रखें- अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य श्री सुलेमान ने निर्देश दिए कि कोरोना टैस्ट करने के बाद व्यक्ति को आयसोलेशन में रखा जाना आवश्यक है। यदि उसके घर में आयसोलेशन की व्यवस्था न हो तो उसे सी.सी.सी. अथवा डी.सी.एच.सी. में रखा जाए।

”रोजगार सेतु” योजना में मजदूरों का सर्वे प्रारंभ- एसीएस पंचायत एंव ग्रामीण विकास श्री मनोज श्रीवास्तव ने बताया कि रोजगार सेतु योजना के अंतर्गत अप्रवासी कुशल मजदूरयों का सर्वे प्रारंभ कर दिया गया है। श्रम सिद्धि अभियान में अभी तक 3 लाख 96 हजार 197 प्रवासी मजदूरों/अन्य मजदूरयों को जॉब कार्ड बनाकर दिए गए हैं। साथ ही उन्हें मनरेगा में काम भी दिया जा रहा है।

मनरेगा में गड़बड़ी करने पर सख्त कार्रवाई करें- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि मनरेगा में गड़बड़ी करने वालयों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। यदि कोई व्यक्ति मनरेगा में मशीनें लगता है तो उसकी मशीनें जप्त कर उसके विरूद्ध एफआईआर दर्ज की जाए। इसी प्रकार यदि कोई व्यक्ति जॉब कार्ड में गड़बड़ी करता है अथवा अन्य अनियमितता करता है तो उसके खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की जाए।

शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण दें- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जो किसान समर्थन मूल्य पर अपना गेहूँ बेच रहे हैं, उनसे पुराने फसल ऋण की अधिकतम 50 प्रतिशत राशि काटकर उन्हें शासन की योजना अनुसार शून्य प्रतिशत ब्याज पर नया फसल ऋण उपलब्ध कराया जाए।

#MPFightsCorona
#JansamparkMP

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!