Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर/आष्टा : 05 लाख की फिरौती के उद्देश्य से अपहरण किये गये 05 वर्षीय व्यापारी पुत्र को पुलिस द्वारा 04 घंटे मे दस्तयाब कर घटना के मास्टरमांईड  को घटना मे प्रयुक्त कार सहित किया गया गिरफ्तार ।

0 1

अमित मंकोडी
05 लाख की फिरौती के उद्देश्य से अपहरण किये गये 05 वर्षीय व्यापारी पुत्र को पुलिस द्वारा 04 घंटे मे दस्तयाब कर घटना के मास्टरमांईड  को घटना मे प्रयुक्त कार सहित किया गया गिरफ्तार ।

01.घटना का संक्षिप्त विवरण- दिनांक 17.12.20 के शाम करीब 03.45 बजे आष्टा नगर मे रिलायंस पेट्रोल पंप के पास खली व्यापारी अजबसिहं पिता शंकरलाल मेवाडा निवासी दलपतपुरा हाल सीहोर रोड आष्टा का 05 वर्षीय बालक परवेश अपने घर के पीछे बच्चो के साथ खेल रहा था, जिसे एक मोटर सायकल पर सवार दो अज्ञात बदमाश अपहरण कर ढाकनी-मुगली तरफ ले गये ।अपहर्त बालक की 06 वर्षीय बहन द्वारा घटना की सूचना उसके माता-पिता को दी गई जिनके द्वारा बालक के आसपास न मिलने पर डायल 100 पर फोन कर पुलिस को दी गई ।घटना की सूचना पर थाना आष्टा के सउनि शिवलाल वर्मा द्वारा तत्काल मौके पर पहुंचकर देहाती नालिसी लेख की गई जिसपर से थाना आष्टा मे घटना के संबंध मे अपराध क्र. 741/20 धारा 364ए,34 भादवि का पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया । थाना प्रभारी आष्टा द्वारा विवेचना प्रारंभ की गई ।

 


02.घटना के पर्दाफाश हेतु गठित विशेष टीमे – श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा घटना के तत्काल पर्दाफाश किये जाने, अपहर्त बालक की सुरक्षित दस्तयाबी एवं आरोपीयो की धरपकड हेतु एसडीओपी आष्टा के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी आष्टा,थाना प्रभारी जावर, थाना प्रभारी पार्वती, थाना प्रभारी मंडी, थाना इछावर एवं उनि अजय जोझा, उनि रामबाबु राठौर, प्रउनि निकिता सिहं के नेतृत्व मे विभिन्न टीमे गठित कर टास्क देकर तत्काल कार्यवाही हेतु रवाना किया गया तकनीकी सहायता हेतु पृथक से एक टीम गठित की गई ।


03.अपराधियो की कार्यप्रणाली- घटना का मुख्य आरोपी धरमसिहं मेवाडा, फरियादी के गांव दलपतपुरा का ही रहने वाला है जिसपर पूर्व से ही 02-03 मारपीट के अपराध दर्ज है उसके द्वारा अपने अन्य दो रिश्तेदारो विनोद पिता सरदार मेवाडा एवं टींकू उर्फ कालू पिता मोरसिहं मेवाडा निवासीगण छापरी करन थाना इछावर के साथ मिलकर बुधवार के दिन दलपतपुरा गांव मे घटना की योजना तैयार की गई। जिसमे आरोपी धरमसिहं मेवाडा ने विनोद एवं टींकू उर्फ कालू को बालक को ट्यूशन से वापस आने के दौरान अपहरण कर मोटर सायकिल से ढाकनी-मुगली तक लेकर आने का काम दिया तथा स्वयं की मारूती 800 कार लेकर पूर्व से वहां पर खडे रहने की बात कही तत्पश्चात धरमसिहं व टींकू अपहर्त बालक को मारूती मे छुपाकर इछावर तरफ जंगल मे ले जाने और वहा से 05 लाख रूपये की फिरौती मांगने की योजना तैयार की गई एवं अपने-अपने कार्य का पूर्व से ही बंटवारा किया गया ।बालक के अपहरण हेतु विनोद की प्लेटिना मोटर सायकिल एवं हेलमेट का उपयोग किये जाने की योजना तैयार की गई तथा फरियादी से किन शब्दो मे फिरौती मांगना है उस शब्दावली का बोलकर पूर्वाभ्यास किया गया था
04.घटना की सूचना पर पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही- तत्काल कंट्रोल रूम सीहोर, थाना पार्वती,मंडी,जावर एवं इछावर एवं वरिष्ठ अधिकारीगणो को घटना से अवगत कराया गया। प्रकरण की गंभीरता एवं संवेदनशीलता को देखते हुये अपहर्त बालक एवं आरोपियो की तलाश एवं पतारसी हेतु पुलिस अधीक्षक महोदय जिला सीहोर श्री शशिन्द्रसिहं चौहान के द्वारा तत्काल एसडीओपी श्री मोहन सारवान के मार्गदर्शन मे 04 टीमे गठित की गई स्वयं तथा अति.पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव के साथ

घटनास्थल हेतु रवाना हुये एवं संपूर्ण कार्यवाही पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा स्वयं के निर्देशन मे संपादित कराई गई। थाना क्षैत्र के आम रास्तो पर राहगीरो एवं दुकानदारो से लगातार पुछताछ कर व जानकारी लेते हुये एवं सीसीटीव्ही फुटेजो एवं सायबर सेल सीहोर से प्राप्त जानकारी की सहायता से अपहर्त बालक व आरोपीयो की तलाश की गई ।अपहर्त बालक के पिता अजबसिहं मेवाडा ने अज्ञात मोबाईल से फोन आना एवं फिरोती की मांग करने की बात बताई । तकनीकी तौर पर भी अपहर्त बालक एवं अज्ञात आरोपीयो की सतत् खोजबीन जारी रखी गई।
तलाश हेतु लगाई गई विशेष टीमो एवं तकीनीकी माध्यमो से प्राप्त जानकारी के आधार पर आरोपीयान के इछावर थाना क्षैत्र के पीपलठोन के आसपास होने की सूचना प्राप्त हुई जो तलाश पतारसी करते हुये गुराडिया रूपचंद, रामनगर होते हुये पीपलठोन(ब्रिजिशनगर) के पास जंगल मे पुलिस को पगडंडी के किनारे एक सफेद रंग की मारूती कार संदिग्ध अवस्था मे खडी है जिसकी घेराबंदी कर पकडा, देखा तो कार की पीछे की सीट पर एक व्यक्ति गोदडी मे एक छोटे बालक को छुपाये बैठा था। व्यक्ति से पुछताछ करने पर उसने अपना नाम धरमसिहं पिता माधौसिहं मेवाडा 32 साल निवासी दलपुतपुरा का होना बताया एवं गोद मे बैठै बच्चे का नाम परवेश बताया ,जिसे हमराह गवाहानो ने पहचानते हुये अपहर्त बालक परवेश होना बताया ।आरोपी के कब्जे से अपहर्त बालक को दस्तयाब किया गया बाद धरमसिहं से पुछताछ करने पर उसने अपना जुर्म स्वीकार किया व भागे हुये दोनो साथी बदमाशो के नाम विनोद पिता सरदार मेवाडा एवं टींकू उर्फ कालू पिता मोरसिहं मेवाडा निवासीगण छापरी करन के साथ मिलकर खली व्यापारी अजबसिहं के पुत्र को फिरौती के लिये अपहरण की योजना बनाना बताया एवं साथी बदमाश विनोद एवं कालु उर्फ टींकू के द्वारा बालक को रिलायंस पेट्रोल पंप के पीछे से पकडकर मो.सा. से लेकर जाना एवं बालक को ढाकनी मुगली रोड पर आरोपी धरमसिहं को मारूती कार मे सौपना बताया एवं विनोद मो.सा. से अलग जाना एवं टींकू उर्फ कालू, धरमसिहं के साथ कार मे आना बताया ।
आरोपी धरमसिहं को विधीवत गिरफ्तार किया जाकर घटना मे प्रयुक्त मारूती कार,ग्रै रंग का हेलमेट, एक रंगीन चादर व एक गोदडी आदि को विधीवत जप्त कर कब्जा पुलिस लिया गया । मौके से भागे दोनो आरोपीगण विनोद एवं कालू की तलाश आसपास किया जो अंधेरा होने से नही मिल सके । अपहर्त बालक का मेडीकल कराकर पिता अजबसिहं को सुपुर्द किया गया । प्रकरण के मुख्य आरोपी धरमसिहं को 02 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया एवं अन्य शेष दो आरोपीगण विनोद और कालू उर्फ टींकू की तलाश जारी है ।
05.संपूर्ण कार्यवाही श्रीमान एडीजी महोदय श्री उपेन्द्र जैन के सतत् मानीटीरिंग मे की गई । श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय श्री शशिन्द्र सिहं चौहान एवं अति.पुलिस अधीक्षक महोदय श्री समीर यादव के निर्देशन एवं एसडीओपी आष्टा श्री मोहनसिहं सारवान के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी आष्टा एवं उपरोक्त गठित सभी टीमो थाना प्रभारी जावर, थाना प्रभारी पार्वती, थाना प्रभारी मंडी, थाना इछावर के उनि अजय जोझा, उनि रामबाबु राठौर, प्रउनि निकिता सिहं का अहम योगदान रहा । उल्लेखनीय सफलता के लिये श्रीमान एडीजी महोजय भोपाल झोन एवं श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय द्वारा नकद पुरूस्कार दिये जाने की घोषणा की गई है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!