Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर /आष्टा : सोसायिटियों ने लाखों रूपये का घोटाला कर दिया  किसानों का नाम आया पर कर्जा माफ नहीं किया  जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक हकीमाबाद में भ्रष्टाचार

0 4

सोसायिटियों ने लाखों रूपये का घोटाला कर दिया
किसानों का नाम आया पर कर्जा माफ नहीं किया
जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक हकीमाबाद में भ्रष्टाचार

कांग्रेस नेता गोपाल इंजीनियर के नेतृत्व में किसानों ने दिया कलेक्ट्रेट पहुंचकर ज्ञापन
सीहोर। कलेक्ट्रेट पहुंचे आष्टा तहसील के दस गांवों के किसानों ने ग्राम हकीमाबाद सेवा सहकारी समिति पर कर्जं माफी राशि में भष्टाचार करने का    आरोप लगाया है। हीरापुर,लोरसकला, हकीमाबाद, मुदीखेडी, टडा, बगडावदा ,लख्मीपुर, धनान सहित अन्य गांवों के किसानों ने कांग्रेस नेता गोपाल इंजीनियर
के नेतृत्व कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया है। किसानों ने मामले की निष्पक्ष  जांच   कर दोषियों को कड़ी सजा देने और कर्ज माफी की राशि बीमा राशि  सोसायटी से दिलाने की मांग जिला कलेक्टर से की है।

ज्ञापन के बाद किसानों को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता गोपाल इंजीनियर ने   कहा की पूर्वं मुख्यमंत्री कमलनाथ द्वारा की गई कर्जंमाफी में सहकारी समितियों के द्वारा भारी भ्रष्टाचार किया गया है। जिन किसानों के नाम कर्जं माफी की सूची में आये उन के भी कर्जं माफ नहीं किए गए है। जिस किसान परिवार के दो खाते उनको  भी अधेरे में  रखा  गया  है। सहकारी समितियों ने एक का कर्जा माफ किया और दूसरे को कर्जदार बनाए रखा गया है। उन्होने कहा की तहसील क्षेत्र के एक  हजार से अधिक  किसानों  के साथ आर्थिक अत्याचार किया गया है।  किसानों ने  कहा  की ग्राम हकीमाबाद सेवा सहकारी समिति में पदस्थ कर्मंचारी अपनी मनमानी करते है बीमा राशि से बहुत किसान वंचित रहे गये है। इससे  पहले सहकारी समिति गवाखेड़ा के जुडे सामरदा,सामरदी, टीपाखेड़ी, रसूलपुरा, कांदराखेड़ी मुल्लानी के किसानों ने भी गवाखेड़ा सहकारी समिति के खिलाफ  शिकायत की जा चुकी है।

प्रदर्शन में ग्राम हकीमाबाद सेवा सहकारी समिति के खातेेदार पदम सिंह ,हरि ओम भैरव सिंह ,देवेंद्र मेवाड़ा ,महेश मेवाड़ा ,सूरत सिंह ,जीवन मेवाड़ा, तेज सिंह ,हेमराज शंकर, धन सिंह, जगदीश ,राकेश, विक्रम, कृपल, रायसिंह, धमज़् सिंह, कैलाश सिंह ,ओम प्रकाश ,कुबेर सिंह ,राम सिंह ,प्रेम सिंह ,अजब सिंह आदि किसान शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!