Take a fresh look at your lifestyle.

सीहोर : आमजन को लू के प्रकोप से बचाव हेतु सुझाव के निर्देश

0 0

आमजन को लू के प्रकोप से बचाव हेतु सुझाव के निर्देश

  सीहोर 21 अप्रैल,2019

            मार्च एवं मई माह के दौरान अधिकतम तापमान सामान्य से अधिक रहने की संभावना है। NDMA  द्वारा दी गई चेतावनी के अनुसार प्रदेश के अधिकांश भागों में लू का प्रकोप जारी रहने की संभावना व्यक्त करते हुए जनसमुदाय को लू के प्रकोप से बचाव हेतु सुझाव तथा निर्देश दिए गए हैं।

      कलेक्टर श्री गणेश शंकर मिश्रा द्वारा समस्त अनुविभागीय अधिकारी, समस्त तहसीलदार, समस्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत, समस्त मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देशानुसार कार्यवाही कर प्रतिवेदन कलेक्टर कार्यालय को प्रस्तुत करने के लिए निर्देशित किया है।

      कलेक्टर द्वारा समस्त जिला प्रमुखों को निर्देशित किया गया है कि लू से बचाव संबंधी जनजागृति कार्यक्रमों का आयोजन जिला स्तर पर किया जाए। नगररीय प्रशासन एवं विकास विभाग सार्वजनिक स्थलों जैसे बाजारों, प्रमुख कार्यालयों आदि को चिन्हित कर इन स्थानों में लू से बचाव हेतु पर्याप्त छायादार स्थल शेड की व्यवस्था की जाए ताकि जनसामान्य इन स्थलों पर लू से अपना बचाव कर पाएं। इन चिन्हित स्थलों पर लू से बचाव के प्राथमिक उपचार हेतु फर्स्ट ऐड बॉक्स भी रखा जाए तथा इसके उपयोग से संबंधित आवश्यक निर्देश लिखे जाएं। स्थानीय स्वयं सेवी संगठनों से विचार विमर्श कर आवश्यकतानुसार इन स्थलों पर वॉलंटियर की तैनाती भी की जा सकती है जो आपात स्थिति में प्राथमिक उपचार करने में सक्षम हो। चिन्हित स्थलों पर शीतल जल की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चत की जाए साथ ही यह भी सुनिश्चत किया जाए कि पेयजल श्रोत में पीने हेतु पयाप्त जल उपलब्ध हो। इस कार्य की निगरानी के लिए नगरपालिका, नगरपंचायत के कर्मियों की क्षेत्रवार जिम्मेदारी निर्धारित की जाए।

      स्कूल शिक्षा विभाग को निर्देशित किया गया है कि जिले के सभी स्कूल तथा शैक्षणिक संस्थाओं का कार्य समय प्रात: 7 से 12 बजे तक कर लिया जाए। शैक्षणिक संस्थाओं के क्लास रूम को शीतल रखने की व्यवस्था, छायादार स्थानों, शीतल पेयजल, आपातकालीन सेवा आदि की व्ययवस्था की जाए।

      लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग जिले में स्थित सभी शासकीय अस्पतालों में लू से बचाव के इलाज हेतु विशिष्ट कार्य योजना बनाए जाने के लिए आवश्यक कार्यवाही करें। लू से बचाव हेतु जन सामान्य द्वारा अपनाए जाने वाले उपाय से संबंधित सुझाव को जिले के सभी अस्पतालों के बाहर लिखा जाए। सार्वजनिक स्थलों पर एंबुलेंस/108 को विशेषकर दोपहर में तैयारी की स्थिति में रखा जाए ताकि किसी व्यक्ति को लू लगने पर उसे तत्काल चिकित्सकीय सहायता प्रदान की जा सके। वन विभाग द्वारा सार्वजनिक स्थलों में पर्याप्त वृक्षारोपण सुनिश्ख्त की जाए तथा जंगली पशुओं तथा पक्षियों के लिए जंगल में पर्याप्त जल की व्यवस्था की जाए। वन अग्नि को रोकने हेतु लगातार निगरानी सुनिश्चत की जाए। पर्यटन विभाग पर्यटकों के लिए लू संबंधी चेतावनी जारी करने की व्यवस्था करें। परिवहन विभाग बस स्टैंड आदि सार्वजनिक वाहन स्थलों पर फर्स्ट ऐड बॉक्स की व्यवस्था, पर्याप्त छाया की व्यवस्था तथा शीतल जल की व्यवस्था करना सुनिश्चकत करें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!