Take a fresh look at your lifestyle.

देवास/खातेगांव : चाय बेचने वाले की बेटी ने 12वीं में प्रदेश में पाया तीसरा स्थान, 91.2% अंक प्राप्त कर बनी सिरमोर, 500 में से 456 अंक हासिल किए,

0 1

चाय बेचने वाले की बेटी ने 12वीं में प्रदेश में पाया तीसरा स्थान, 91.2% अंक प्राप्त कर बनी सिरमोर, 500 में से 456 अंक हासिल किए,

अनिल उपाध्याय
खातेगांव /
मध्य प्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10 वी एंव 12 वी परीक्षा में खातेगांव के शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय की प्रतिभावान छात्रा आयुसी यादव ने होम साइंस विषय में 91 2% अंक प्राप्त कर प्रदेश की मेरिट लिस्ट में तीसरा स्थान प्राप्त किया, खातेगांव नगर के जवाहर चौक पर एक हाथ ठेले पर चाय बेचने वाले अजय उर्फ (हीरू ) की बेटी ने यह करतव दिखाया, उन्होंने 500 में से 456 अंक हासिल किए अपनी सफलता का श्रेय आयुषी ने अपने माता-पिता और गुरुजनों को दिया है एक छोटी से हाथ ठेले पर चाय बेचकर जैसे अपने परिवार का पालन पोषण करने वाले अजय यादव और उसकी मां ने बेटी की इस उपलब्धि को उसका कठिन परिश्रम का फल बताते हुए खुशी जताई है

चाय की दुकान के संचालक की बेटी आयुषी मेरिट सूची में तीसरा स्थान पर

माध्यमिक शिक्षा मंडल हायर सेकेंडरी 12वीं के परीक्षा परिणाम में एक बार फिर खातेगांव को प्रदेश में गौरव प्राप्त हुआ है और यह कार्य किया है खातेगांव नगर के चाय विक्रेता अजय हीरू यादव की बिटिया आयुषी यादव ने आयुषी ने शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में प्राचार्य मनीष यादव के मार्गदर्शन एवं
वरिष्ठ शिक्षक राधेश्याम मालवीय, शशिकांत यादव एवं निधि तिवारी
शिक्षक शिक्षिकाओं के सही उचित अध्ययन से मध्य प्रदेश की हायर सेकेंडरी कक्षा बारहवीं की प्रवीण सूची में होम साइंस विषय में प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त कर खातेगांव का गौरव बढ़ाया l इस अवसर पर शिक्षक एवं प्राचार्य मनीष यादव सहित सभी शिछक शिछिकाओ ने हर्ष व्यक्त करते हुए कहां की आज भी शासकीय विद्यालयों में शिक्षा का उच्च स्तर है खातेगांव नगर का गौरव आयुषी ने एक बार फिर प्रदेश स्तर पर बढ़ाकर देवास जिले का नाम रोशन किया l जैसे ही परीक्षा परिणाम की जानकारी खातेगांव नगर में मिली आयुषी के घर आयुषी के परिजन एवं नगर के इष्ट मित्र उन्हें बधाई देने पहुंचे
साथ ही बड़ी संख्या में शिक्षा क्षेत्र से जुड़े लोगों ने आयुषी को मिठाई खिलाकर पुष्प हार से स्वागत व सम्मान अभिनंदन किया l सामान्य परिवार में अपना जीवन यापन करने वाले अजय यादव की चार पुत्री एवं एक पुत्र हैं अजय यादव चाय का ठेला लगाकर अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं थोड़ी बहुत जमीन है l बिटिया की शिक्षा को लेकर काफी . अच्छी सोच रखने वाले अजय यादव अपनी चारों बेटी को उच्च शिक्षा ग्रहण कराना लक्ष्य रखते हैं l अजय कि यह सबसे छोटी बिटिया थी जिसने खातेगांव नगर का नाम मध्यप्रदेश में रोशन कर दिया आयुषी ने होम साइंस विषय में 500 में से 456 अंक प्राप्त कर 91.2 प्रतिशत अंक अर्जित कर प्रदेश की टॉप टेन सूची में तीसरा स्थान प्राप्त किया lशासकीय विद्यालय की छात्रा में प्रदेश की मेरिट सूची में खातेगांव का गौरव बढ़ा कर एक बार फिर नगर के निजी प्राइवेट स्कूलों के चुनौती दी भारी भरकम फीस लेकर वर्षभर शिक्षा के नाम पर विद्यालय चलाने वाले संचालकों को एक बार फिर सोचना होगा और नगर में शिक्षा के स्तर को जितनी मोटी रकम लेते हैं उतना उच्च उठाना होगा नगर में दिन प्रतिदिन निजी विद्यालयों की संख्या बढ़ती जा रही है कई विद्यालय संचालकों ने शिक्षा को व्यवसाय बना लिया।

सिर्फ हमें मेहनत करने की आवश्यकता है

मध्यप्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त करने वाली छात्रा आयुषी अजय हीरू यादव ने मिडिया से चर्चा की तो उन्होंने बताया कि प्राचार्य मनीष यादव एंव शिक्षक शिक्षिकाओं के मार्गदर्शन एवं माता पिता के सहयोग से यह मंजिल प्राप्त की है आगे भी कई लक्ष्य हैं उन लक्ष्यों को प्राप्त करना ही मुख्य लक्ष्य है शिक्षा के स्तर को बनाए रखना ही मेरी महत्वपूर्ण जिम्मेदारी रहेगी समस्त साथी भाई बहनों छात्र-छात्राओं से यही कहना चाहती हूं कि जीवन में एक लक्ष्य बनाकर शिक्षा ग्रहण करें मंजिल और सफलताएं अपने आप मिलती है सिर्फ हमें मेहनत करने की आवश्यकता है l

जब भी समय मिलता था पढ़ाई करती थी

मेरी इस सफलता में मेरे परिवार एवं शिक्षकों का भरपूर सहयोग मुझे मिला जब भी समय मिलता था पढ़ाई करती थी इंग्लिश विषय की कोचिंग की बाकी विषय की कोई कोचिंग नहीं जब भी समय मिलता घर पर ही पढ़ाई करती थी l मम्मी ग्रहणी है पिताजी चाय का ठेला लगाते हैं।विद्यालय नगर परिवार का नाम रोशन करने वाली प्रदेश की प्रवीण सूची में तीसरा स्थान बनाने वाली खातेगांव नगर की छात्रा आयुषी ने बताया कि जैसे ही परिणाम आए देख कर बहुत खुशी हुई आगे भी इसी प्रकार प्रकार की सफलता अर्जित करना लक्ष्य होगा l

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!