Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : सोशल डिस्टेसिंग के पालन के साथ ही मंडी में प्रारम्भ हुई कृषि उपज की नीलामी

0 2

सोशल डिस्टेसिंग के पालन के साथ ही आष्टा मंडी में प्रारम्भ हुई कृषि उपज की नीलामी

कृषि उपज मंडी समिति आष्टा द्वारा दिनांक 30/04/2020 से कृषि उपज की नीलामी प्रारम्भ हुई। मंडी में 27 ट्रॉलीयों में कृषकगण अपनी कृषि उपज गेहू, चना, सोयाबीन, राई, मसूर इत्यादि जिन्सों की नीलामी की गई। जिसमें 44 कृषकों द्वारा 862 क्विं. कृषि उपज का विक्रय किया गया।
मंडी प्रषासन द्वारा दिनांक 29/4/2020 को जारी जाहिर सूचना अन्तर्गत आष्टा विकास खंड के कृषकों की सुविधा हेतु वैष्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से रोकथाम एवं सोषल डिस्टेसिंग संबंधी गाईड लाईन का पालन करते हुए मंडी कार्यालय में रजिस्ट्रेषन सेंटर स्थापित कर मोबाईल नं. 9399940218 एवं 8718832702 पर मंडी प्रांगण में अपनी कृषि उपज विक्रय हेतु आने से पूर्व पंजीयन कराने हेतु अवगत कराया गया । क्षैत्र के माननीय विधायक श्री रधुनाथसिंह मालवीय जी, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व एवं भारसाधक अधिकारी मंडी श्रीमती अंजू अरूणकुमार सहित स्थानीय प्रषासन की पहल पर अनाज तिलहन व्यापारी संघ, हम्माल संघ आदि के सहयोग से मंडी सचिव श्री योगेष नागले द्वारा क्षैत्र की भोगोलिक स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए कार्य योजना तैयार की गई जिसमें नवीन व्यवस्था अन्तर्गत स्थापित पंजीयन केन्द्र पर आज शाम तक कृषकों द्वारा अपने गॉव से ही मोबाईल के माध्यम से अपना पंजीयन कराया गया जिसमें प्रथम 150 पंजीकृत कृषकों को दिनांक 02/05/2020 को तथा शेष को उसी क्रम से आगे की तारीख मंडी में कृषि उपज लाने हेतु तत्समय ही अवगत कराया गया। माननीय विधायक महोदय, स्थानीय प्रषासन, जनप्रतिनिधियों के माध्यम से इस नवीन व्यवस्था का व्यापक प्रचार प्रसार का इतना अधिक असर हुआ है कि मंडी प्रांगण में आज पहले ही दिन दिनांक 02/05/2020 से आने वाले 02 कार्यदिवसों में कृषि उपज विक्रय हेतु लाने वाले कृषकों का पंजीयन हो चुका है। जो निरन्तर जारी रहेगा।
यह स्मरणीय है कि मंडी प्रषासन द्वारा क्षैत्र के कृषकों की कृषि उपज विक्रय में परेषानी को देखते हुए वैष्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से रोकथाम एवं सोषल डिस्टेसिंग संबंधी गाईड लाईन का पालन करते हुये 18 प्रायवेट क्रय केन्द्रों को अनुज्ञप्ति प्रदाय की गई जिसमें कृषकगण सौदा पत्रक के माध्यम से भी अपनी कृषि उपजों का विक्रय कर रहे है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!