Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : संवेदनशील और विवादास्पद केंद्रों को पुनः परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जाने की अपील के साथ अशासकीय स्कूल एसोसिएशन ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन।

0 2

आष्टा संवेदनशील और विवादास्पद केंद्रों को पुनः परीक्षा केंद्र नहीं बनाए जाने की अपील के साथ अशासकीय स्कूल एसोसिएशन ने कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन द्वारा आज कलेक्टर को ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराया गया क्या आष्टा तहसील नकल हब के रूप में अपनी पहचान बना चुका है यह सब शिक्षा माफिया की मिलीभगत से किया जा रहा है महोदय अशासकीय विद्यालय संगठन आष्टा मांग करता है कि गत वर्ष 2018-19 मैं बोर्ड परीक्षाओं के समय आस्था अनुभाग में परीक्षाओं के समय जो विपरीत घटनाएं घटित हुई थी उससे पूरे जिले में अशासकीय विद्यालय की छवि धूमिल हुई थी जिसके साक्षी प्रस्तुत किए जा चुके हैं वर्ष 2019 और 20 की परीक्षाओं के केंद्र निर्धारण का प्रस्ताव माननीय श्रीमान विकास खंड शिक्षा अधिकारी महोदय एवं अनुविभागीय अधिकारी आष्टा की कमेटी द्वारा किया गया है जिसमें उन परीक्षा केंद्रों को जो गत वर्ष संवेदनशील होकर नकल की गतिविधियों में सम्मिलित थे उन को समाप्त करने का प्रस्ताव भेजा गया है किंतु जिला शिक्षा अधिकारी के व्यक्तिगत रुचि के कारण समाप्त किए गए परीक्षा केंद्रों को पुनः परीक्षा केंद्र बनाने का प्रस्ताव विकासखंड स्तरीय कमेटी को दिया गया है संगठन विद्यार्थियों के हित को एवं अपने सामाजिक उत्तरदायित्व को समझते हुए निवेदन करता है शिक्षा केंद्रों को समाप्त कर उन्हें वर्ष 2019 और 20 की परीक्षाओं के लिए परीक्षा केंद्र ना बनाया जाए

आष्टा विकासखंड के ग्रामीण क्षेत्रों के परीक्षा केंद्र जिनमें धुराडा कला, सिद्धिकगंज खजूरिया कासम रोला गांव छापर भंवरा लोरस कला निपानिया कला खामखेड़ा जत्रा लसूडिया विजय सिंह कजलास आदि वह परीक्षा केंद्र थे जिनमें सीहोर जिले एवं अन्य प्रदेशों के विद्यार्थियों ने नियमित परीक्षार्थी के रूप में शामिल हुए थे और यह घटना घटित हुई थी जिससे आस्था विकासखंड का पूरे प्रदेश में नाम बदनाम हुआ था अशासकीय विद्यालय संगठन ने इन केंद्रों को पुनः परीक्षा केंद्र बनाए जाने पर आपत्ति दर्ज कराते हुए निवेदन किया कि इन्हें फिर से परीक्षा केंद्र ना बनाया जाए

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!