Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : युवाओं ने बैंड बजा कर और बकरा- बकरी चरा कर किया कमलनाथ सरकार के फैसले का विरोध

0 2

युवाओं ने बैंड बजा कर और बकरा- बकरी चरा कर किया कमलनाथ सरकार के फैसले का विरोध


आष्टा।भारतीय जनता युवा मोर्चा के पूर्व जिला महामंत्री पूर्व पार्षद कालू भट्ट ने 10 मार्च रविवार की शाम को एक अनोखा प्रदर्शन किया ।उन्होंने कमलनाथ कि वादा खिलाफ ध्यानाकर्षण के लिए आज बेंड बाजे और बकरा बकरी ढोर चरा कर विरोध प्रदर्शन किया।
श्री भट्ट ने कहा कि प्रदेश सरकार अपने वचन पत्र के अनुसार झूठे वादे करके सत्ता में आई थी ,जिस प्रकार से उसने वचन पत्र में कहा था कि हर बुजुर्ग आदमी को 1 हजार रुपए पेंशन मिलेगी, वहीं युवाओं को बेरोजगार भत्ता प्रदान किया जाएगा ।साथ ही किसानों के खाते में दो लाख रुपए डाले जाएंगे, परंतु अभी तक 2 महीने बीत जाने के बाद भी सरकार ने न तो किसानों की सुध ली है, न ही प्रदेश के युवाओं की तरफ उनका ध्यान आकर्षित हो रहा है। जबकि अब सरकार युवाओं से बकरा -बकरी ओर ढोर चराने और बैंड बाजा बजाने का प्रशिक्षण देने जा रही है ,जो कि प्रदेश के युवाओं का अपमान है ।
क्या अभिभावकों ने बैंड बाजा बजाने के लिए पड़ाया श्री भट्ट ने इस अवसर पर कहा कि क्या अभिभावकों ने अपने बेटे बेटियों को बैंड बाजा बजाने के लिए पढ़ाई -लिखाई करवा रहे हैं ।यह तो सरासर प्रदेश के लोगों का अपमान के साथ युवाओं का भी अपमान है। श्री भट्ट ने आरोप लगाया कि कमलनाथ की सरकार अपने वचन पत्र पर अडिग नहीं हो पा रही है। विधानसभा की जानकारी के दौरान विपक्ष के नेता जब गोपाल भार्गव ने उनसे पूछा अपने प्रश्न के दौरान कि सामाजिक न्याय मंत्री महोदय यह बताने की कृपा करें की हितग्राहियों की राशि 1 हजार रुपए किए जाने का वचन जो कांग्रेस सरकार ने चुनाव पूर्व किया था ,वह अभी तक लागू नहीं हुआ है या इसका लाभ अभी तक कितने को प्राप्त हो चुका है, उत्तर में सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया ने न कह कर अपनी इतिश्री कर ली ।वहीं अनेक योजना कांग्रेस सरकार ने अपने वचन पत्र के दौरान कही थी। जिसमें युवाओं को रोजगार साथ ही वरिष्ठ जनों को जिनकी आयु 100 वर्ष है उनको 1 लाख रुपए की राशि प्रदान की जाएगी और उनका सम्मान किया जाएगा ।यह भी अभी तक सिर्फ उनके वचन पत्र में लिखा है ,जो जमीनी स्तर पर लागू नहीं किया गया ।साथ ही मध्य प्रदेश सरकार के पूर्व लोकप्रिय मुख्यमंत्री द्वारा चलाई गई नगर पालिका में तीर्थ दर्शन योजना ,संबल योजना को भी पूरी तरह बंद कर दिया गया है। हितग्राहियों को उसका लाभ नहीं दिया जा रहा है ।कालू भट्ट ने कहा है कि मुख्यमंत्री ने 10 दिन में किसानों का कर्जा माफ करने का आश्वासन दिया था, जिसे अभी तक पूरा नहीं किया गया है। वहीं किसान ,बेरोजगार और सीनियर सिटीजन परेशान हो रहे हैं ।साथ ही जो झूठे वादे कांग्रेस ने किए थे ,वह धीरे-धीरे जनता के सामने आ रहे हैं। अगर कांग्रेस पार्टी के नेता अपने वचन पत्र पर कायम नहीं है ,जिसका जवाब जनता आने वाले लोकसभा चुनाव में जरूर देगी।
इस अवसर पर भाजपा के नगर उपाध्यक्ष सुरेश परमार ,नगर मंत्री आनंद गोस्वामी, महामंत्री पंकज नाकोड़ा ,कालू सोनी ,दीपक मोदी, विशाल तोमर, रोहित तोमर ,अजय समन, राहुल राठौर, टीकाराम दुबे ,विनोद राठौर ,राकेश राजपूत ,आकाश मालवीय, राम सोनी ,कुलदीप मेवाड़ा आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!