Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : परिषद में सीसी रोड़, डामर रोड़, डब्लूबीएम रोड़, आरसीसी नाली, पाईप लाईन, बाउंड्रीवाल सहित अनेक कार्य हुए स्वीकृत

0 1

3 करोड़ की लागत से 35 निर्माण कार्य शीघ्र होंगे प्रारंभ
अध्यक्ष परिषद में सीसी रोड़, डामर रोड़, डब्लूबीएम रोड़, आरसीसी नाली, पाईप लाईन, बाउंड्रीवाल सहित अनेक कार्य हुए स्वीकृत
आष्टा। नपाध्यक्ष कैलाश परमार की अध्यक्षता में अध्यक्ष परिषद (पीआईसी) की बैठक नगरपालिका के विभिन्न विकास कार्यो, प्रशासनिक कार्यो को लेकर संपन्न हुई। बैठक में अध्यक्ष परिषद के सदस्य सुभाष नामदेव, आतू मौलाना, अयाज पठान, श्रीमती फोजिया जाहिद गुड्डू, श्रीमती सावित्री घनश्याम जांगड़ा, नरेन्द्र कुशवाह, श्रीमती राधिका अनिल राठौर उपस्थित रहे। मुख्य नगरपालिका अधिकारी नीरज श्रीवास्तव ने अध्यक्ष परिषद के समक्ष विभिन्न विषयों को प्रस्तुत करते हुए नगर के सभी वार्डो के आंतरिक मार्गो के डामरीकरण, कांक्रीटीकरण एवं पाईप लाईन कार्य की तकनीकी स्वीकृति, प्रशासनिक स्वीकृति, वित्तीय स्वीकृति के पश्चात्् निविदा जारी कर लगभग 3 करोड़ रूपये के विकास कार्यो को सर्वसम्मति से स्वीकृत करते हुए कार्यालय को निर्देशित किया कि इन सभी कार्यो का कार्यादेश जारी कर तत्काल इन कार्यो को करवाया जाए। गौरतलब है कि पिछली परिषद की बैठक में इन सभी मार्गो को परिषद द्वारा स्वीकृति दी गई थी जिसके बाद राज्य शासन से तकनीकी एवं वित्तीय स्वीकृति प्राप्त होने पर टेंडर जारी किए गए थे। अध्यक्ष परिषद ने उक्त सभी कार्यो में आए विभिन्न टेंडरों में सबसे कम दर को अपनी मंजूरी दी है। अब इन कार्यो को सीधे संबंधित ठेकेदारों द्वारा पूर्ण किया जाना है। अध्यक्ष परिषद 20 लाख रूपये तक के कार्यो को स्वीकृति प्रदान कर सकती है। उसी अनुरूप अध्यक्ष परिषद ने नागरिकगणों को सुविधा प्रदान करने हेतु लगभग 35 निर्माण कार्यो को अपनी स्वीकृति दी है जिससे नगर में आधारभूत संरचनाओं को तेजी से निर्माण होगा और नागरिकगणों को मूलभूत सुविधाएं समयसीमा में प्राप्त होगी।
यहां बनेंगे सीसी रोड़ – वार्ड क्रमांक 15 में टोल नाके से नए रोड़ तक, मालवीय नगर के सभी कच्चे मार्ग, सुभाष नगर में पीडब्लूडी ऑफिस से इंजीनियर निवास एवं भाटीजी के मकान से श्री ठाकुर के मकान तक, बीआरसी स्कूल हेमराज के मकान से आत्माराम के मकान तक एवं कमलसिंह के मकान से चिंटू के मकान तक, देवीलाल के मकान से नर्बत के मकान तक, शांति नगर में भीमा कुशवाह के मकान से कैलाश के मकान तक एवं श्री पांडे से अजयसिंह के मकान तक, वार्ड क्रमांक 16 में सेमनरी रोड़ से राधेश्याम के मकान से एसबीएस स्कूल तक, सेमनरी रोड़ से मॉर्डन स्कूल से शर्मा जी के मकान तक, मेवाड़ा कॉलोनी में राकेश प्रजापति के मकान से मोतीलाल के मकान एवं श्री दांगी के मकान से महेश बैरागी के मकान तक, वार्ड क्रमांक 4 में अहमद खां के मकान से पार्वती नदी तक, वार्ड क्रमांक 8 में काजीपुरा में शेहदा खां के मकान से शेख इरफान तक एवं नवाब खां के मकान से नौमान खां के मकान तक सीसी रोड़ बनाए जाएंगे।
वे मार्ग जो डामरीकृत होंगे – वार्ड क्रमांक 6 में अरशद अंसारी से भैरूसिंह के मकान तक एवं हैंडपंप के पास से कईम खां तथा तकिया से शिवचरण के मकान तक, वार्ड क्रमांक 2 में मयूर कॉलोनी एवं पटवारी कॉलोनी के मार्ग, वार्ड क्रमांक 1 में डोराबाद स्कूल से पीली खदान के हैंडपंप तक एवं रेस्टहाउस के सामने से हरिनारायण एवं दूध डेयरी तक, वार्ड क्रमांक 7 में गंज गेट से बाहर वाली मस्जिद एवं मांगीलाल साहू से लीलगर मंदिर तक, वार्ड क्रमांक 15 में सुभाष नगर गोपालसिंह इंजीनियर के मकान से हरिनारायण के मकान तक, श्री रंगू के मकान से हितेश के मकान के साथ ही विभिन्न गलियां एवं इंदिरा कॉलोनी में बनवारी माता से नाग महाराज भीमपुरा रोड़ तक, वार्ड क्रमांक 11 में पुराना बसस्टैंड से जैन धर्मशाला के सामने तक, वार्ड क्रमांक 16 में कॉलोनी चौराहा से सेमनरी रोड़ तक एवं शास्त्री कॉलोनी की विभिन्न पाईप लाईन से क्षतिग्रस्त गलियों के मार्गो पर डामरीकरण किया जाएगा।
बाउंड्रीवाल, पाईप लाईन, आरसीसी नाली एवं डब्लूबीएम रोड़ – इसके अलावा वार्ड क्रमांक 5 में आंगनबाड़ी की बाउंड्रीवाल, वार्ड क्रमांक 2 में बहादरपुरा रोड़ पर बाउंड्रीवाल, वार्ड क्रमांक 1 में इंदौर-भोपाल रोड़ से मेहबूब अंसारी एवं सवाईमल जैन तक आरसीसी नाली, वार्ड क्रमांक 3 में संतोष चौकीदार से चाचरसी रोड़ तक सीसी नाली, वार्ड क्रमांक 9 में हय्यूम पाईप लाईन इसरार खां के मकान से तसलील कुरैशी के मकान तक, वार्ड क्रमांक 17 में पुष्प विद्यालय से कुशवाह समाज धर्मशाला तक एवं पुनीत संचेती से हेमंत सोनी के मकान तक एवं इंडियन बैंक के पास तक पाईप लाईन डाली जाएगी। साथ ही वार्ड क्रमांक 16 में काला तालाब की पाल से बाबूलाल के मकान तक एवं इंदिरा कॉलोनी में राजाराम गोरिया के मकान से नजू खां एवं लखन के मकान से शमशान गेट तक डब्लूबीएम रोड़ बनाया जाएगा। वहीं अलीपुर में पार्वती नदी के किनारे विसर्जन कुंड का निर्माण भी किया जाएगा।
स्वच्छता निरीक्षक को किया निलंबित – नगर के स्वच्छता कार्य में लापरवाही कर अनुपस्थित स्वच्छता निरीक्षक राजेश मिश्रा को पूर्व में दिए गए विभिन्न कारण बताओं सूचना पत्रों पर विचार विमर्श किया गया। अध्यक्ष परिषद ने सर्वसम्मति से कहा कि हमें एवं नागरिकों को नगर में स्वच्छ वातावरण चाहिए, इस कारण हम अध्यक्ष को यह अधिकार सौंपते है कि वह अनुशासनात्मक कार्यवाही स्वच्छता निरीक्षक के विरूद्ध तत्काल करें। इस आधार पर नपाध्यक्ष कैलाश परमार ने नगरपालिका अधिनियम के प्रावधानों के अंतर्गत स्वच्छता निरीक्षक राजेश मिश्रा को एक माह के लिए निलंबित करते हुए आगामी अवधि के निलंबन के लिए राज्य शासन के समक्ष प्रतिवेदन भेजने का आदेश दिया।
उपयंत्री को जारी हुआ कारण बताओं सूचना पत्र – नगर में व्याप्त भारी जलसंकट के मध्य उपयंत्री विशाल बाबू शर्मा को उनकी अनुपस्थिति एवं अन्य लापरवाही बावत्् कारण बताओं सूचना पत्र देने का निर्णय लिया गया तथा श्री शर्मा को हिदायत दी गई कि वे नगर के निर्माण कार्यो में एवं उन्हें सौंपे गए अन्य कार्यो को प्रवीण्यता के साथ करें।
राजस्व निरीक्षक को दी हिदायत – नगरपालिका के विभिन्न करों एवं दुकान किराया की वसूली अत्यंत कम हो रही है, राजस्व निरीक्षक मकसूद अली को राजस्व निरीक्षक के कार्य के साथ नगरपरिषद जावर के प्रभारी मुख्य नगरपालिका अधिकारी का कार्य कलेक्टर सीहोर द्वारा सौंपा गया है, परंतु मकसूद अली अधिकांश समय जावर नगर परिषद को देते है, जबकि उनका वेतन, भत्ता आदि सुविधा नगरपालिका परिषद आष्टा प्रदत्त करती है। ऐसी स्थिति में राजस्व निरीक्षक मकसूद अली को निर्देशित किया गया कि वे राजस्व वसूली पर ध्यान दे तथा नगरीय प्रशासन एवं विकास विभाग के नवनियुक्त आयुक्त पी नरहरी आईएएस के सख्त निर्देशों के अनुरूप नगरपालिका के सभी करों एवं किराये की वसूली को सहायक राजस्व निरीक्षकगण के द्वारा शीघ्र पूर्ण करें। इस बावत््् मकसूद अली को सूचना पत्र देने हेतु भी मुख्य नगरपालिका अधिकारी को अध्यक्ष परिषद द्वारा निर्देशित किया गया।
जलशाखा टीम की हुई प्रशंसा – अध्यक्ष परिषद ने अत्यंत अल्पवर्षा के कारण पार्वती नदी में पानी समाप्त हो जाने के बावजूद भी नगरपालिका के जलप्रदाय शाखा के सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को उनके कर्त्तव्य परायणता के लिए सराहना की।
रामपुरा पाईप लाईन कार्य में तीव्रता के लिए राज्य शासन के संज्ञान में लाया जाएगा मामला – रामपुरा डेम से नगर आष्टा तक आने वाली पाईप लाईन के धीमी गति से कार्य होने बावत्् भी अध्यक्ष परिषद ने चिंता व्यक्त करते हुए संबंधित कंपनी से आष्टा नगर की स्वप्निल जल योजना शीघ्र पूर्ण कराने हेतु राज्य शासन का सहयोग लेने का निर्णय लिया, ताकि राज्य शासन के प्रमुख अभियंता अतिशीघ्र संबंधित कंपनी को सूचना पत्र देकर इस कार्य को पूरा करवाएं।
डामरीकरण कर नगर के मुख्य मार्गो को करेंगे व्यवस्थित – मुख्यमंत्री अधोसंरचना अंतर्गत नगर के वार्ड क्रमांक 1, 2, 3, 4, 5, 7, 8, 9, 14, 15 के मार्गो का कांक्रीटीकरण संबंधित ठेकेदार द्वारा कर दिया गया है, गुणवत्ता में कमी के सुधार को ठेकेदार द्वारा शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश अध्यक्ष परिषद द्वारा दिए गए साथ ही शेष कार्यो में कांक्रीट की सतह मोटी होने के कारण दुकानों में पानी जाने की संभावना को दृष्टिगत रखते हुए शेष कार्यो के डामरीकरण कराने बावत्् भी राज्य शासन से आग्रह सर्वसम्मति से किया गया।
राज्य शासन से मांग की विशेष निधि की – अध्यक्ष परिषद ने प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ एवं नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्धनसिंह से आग्रह किया है कि नगर आष्टा की प्रगतिशीलता को दृष्टिगत रखते हुए 2 करोड़ रूपये की विशेष निधि अन्य निर्धारित निधियों के अलावा नगरपालिका परिषद आष्टा को प्रदत्त की जाए, ताकि नगर प्रदेश में अग्रणी बन सकें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!