Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : धुराडा कला केंद्र अध्यक्ष के साथ हुई मारपीट के छह अज्ञात आरोपियों को 48 घंटे की अल्प अवधि में पुलिस ने पकड़ा , न्यायालय ने भेजा जेल।

0 78

आष्टा बीते दिनों धुराडा कला केंद्र अध्यक्ष के साथ हुई मारपीट के छह अज्ञात आरोपियों को 48 घंटे की अल्प अवधि में पुलिस ने पकड़ा, न्यायालय ने भेजा जेल।
14 तीन 2019 को करीब 1:20 पर राजेश कुमार सिंह एवं सहायक केंद्र अध्यक्ष देवनारायण वर्मा जब कक्षा बारहवीं की कॉपियां जमा कराने सिद्धिकगंज से जा रहे थे उस वक्त दुरा डाकला स्कूल के तकरीबन 500 मीटर की दूरी पर घात लगाकर बैठे 4 से 5 नकाबपोश लोगों द्वारा अचानक लाठी डंडों से हमला कर दिया गया हमले में केंद्र अध्यक्ष राजेश कुमार को गंभीर चोटें आई और सहायक केंद्र अध्यक्ष देवनारायण वर्मा को भी चोटें आई जिसके बाद देवनारायण वर्मा अज्ञात लोगों के खिलाफ सिद्धिकगंज थाने में मामला दर्ज करवायापुलिस के अनुसार अपराध क्रमांक 50 – 19 धारा 341 332 353 323 506 और 34 के तहत मामला पंजीबद्ध किया गया

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक जिला सीहोर श्री शीशेन्द्र सिंह चौहान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर यादव के निर्देशन में अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री विरेंद्र कुमार मिश्रा के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया घटना के संबंध में ग्राम धुराडा कला, कातला नीलबड़ और सिद्धि गंज में अज्ञात आरोपियों के बारे में सजन रूप से पूछताछ करने पर पता चला किरण के विशाल आदर्श स्कूल का संचालक हरिराम पाटीदार बाहरी जिलों के के बच्चों से मोटी रकम वसूल कर उन्हें पास करवाने का आश्वासन देकर अपने स्कूल में प्रवेश देता था तथा मनचाहे तरीके से नकल कराने के लिए केंद्र अध्यक्षों को दबाव बनाता था विशाल आदर्श स्कूल का कक्षा बारहवीं का केंद्र धुराडाकला हायर सेकेंडरी स्कूल मैं होने से वहां के प्राचार्य गजराज सिंह से सांठगांठ कर स्कूल में मनमाने तरीके से नकल करवाने के लिए ड्यूटी पर कार्यरत अध्यापकों पर भी दबाव और प्रलोभन बनाया जाता था

14 मार्च को भौतिक शास्त्र का पेपर के समय भी इन दोनों व्यक्तियों द्वारा केंद्र अध्यक्ष राजेश कुमार कथा देवनारायण वर्मा पर नकल करवाने के लिए दबाव बनाया गया था जब उनके द्वारा नकल कराने से स्पष्ट मना कर दिया गया और नियम अनुसार परीक्षा कराने का कहा गया तो उन लोगों की मंशा पूरी नहीं होने के कारण उनके द्वारा मारपीट और लूट जैसी घटना को अंजाम दिया गया प्रभारी प्राचार्य गजराज सिंह ठाकुर के अलावा कैलाश पिता घीसू लाल ,कुंजी लाल पिता चंदर ,बहादुर सिंह पिता भागीरथ सिंह ,चंदर सिंह पिता बापू सिंह को पुलिस ने हिरासत में लिया और पूछताछ की

पूछताछ के दौरान पता चला शराब का लालच देकर घटना को कराया गया आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके द्वारा फरियादी का जलाया गया मोबाइल एक चश्मा फोटो तथा घटना में प्रयुक्त किए गए मजरूब राजेश सिंह को गंभीर चोट होने के कारण प्रकरण में धारा 333 एवं आरोपी गजराज सिंह तथा हरि राम पाटीदार द्वारा षड्यंत्र पूर्वक केंद्र अध्यक्ष एवं सहायक केंद्र अध्यक्ष पर हमला कराए जाने से प्रकरण में धारा 120 बी का इजाफा किया गया सभी आरोपियों को न्यायालय में प्रस्तुत कर न्यायालय द्वारा जेल भेज दिया गया पुलिस द्वारा मैं 48 घंटे में आरोपियों को पकड़ कर जेल पहुंचा दिया गया गंभीर अपराध के खुलासे में प्रमुख रूप से थाना प्रभारी सिद्धिकगंज श्री एमएस कनेश उप निरीक्षक उपेंद्र पाराशर सहायक उप निरीक्षक जवान सिंह भूरिया सहायक उपनिरीक्षक कुंवर बहादुर सिंह प्रधान आरक्षक ठाकुर प्रसाद आरक्षक नरेंद्र जाट आरक्षक जितेंद्र चंद्रवंशी एवं थाना स्टाफ की महत्वपूर्ण भूमिका रही

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!