Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा: दोपहर 1:00 बजे तक 52.35% हुआ मतदान ,मतदाताओं में भारी उत्साह ,बापचा बरामद में भी अधिकारियों की समझाइश के बाद शुरू हुआ मतदान।।

0 1

देवास संसदीय क्षेत्र की आष्टा विधानसभा में मतदान को लेकर मतदाताओं में काफी उत्साह देखा जा रहा है। सुबह 11 बजे तक यहां पर करीब 37.92 प्रतिशत मतदान हो चुका है। पोलिंग बूथ पर सुबह से ही मतदाताओं की लंबी लाइन लगी हुई हैं। मालूम हो, साल 2019 के लोकसभा चुनाव में यहां पर 59.80 और साल 2014 के लोकसभा चुनाव में 72.03 फीसदी मतदाताओं ने मतदान किया था।

एक तरफ मतदान को लेकर काफी उत्साह देखा जा रहा है, वहीं आष्टा के बापचाबरामद में ग्रामीण सड़क निर्माण नहीं होने को लेकर मतदान का बहिष्कार कर रहे हैं। यहां पर अभी तक सिर्फ 13 सरकारी कर्मचारियों ने वोट डाले हैं। लोकसभा चुनाव का सातवें चरण का मतदान सुबह 6 बजे से प्रारंभ हो गया है। आष्टा विधानसभा में मतदान के लिए 331 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। सुरक्षा की दृष्टि से 71 संवेदनशील पोलिंग बूथ पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया है, वहीं चार अति संवेदनशील पोलिंग बूथ पर वीडिया रेकॉर्डिंग और वेव कास्टिंग की जा रही है। मॉनीटरिंग के लिए विधानसभा द्वोत्र में 32 सेक्टर और पुलिस मोबाइल सक्रिय रहेंगी।

सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम के बीच मतदान

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक समीर यादव ने बताया कि आष्टा विधानसभा क्षेत्र में मतदान के लिए 71 क्रिटिकल और 260 सामान्य पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। इन पोलिंग बूथ पर करीब 800 पुलिस जवान और विशेष पुलिस अधिकारी तैनात किए गए हैं। क्रिटिकल पोलिंग बूथ पर विशेष रूप से सुरक्षा के लिए केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल, विशेष सशस्त्र बल एवं जिला पुलिस बल के सशस्त्रधारी गार्ड तैनात किए गए हैं। चुनाव व्यवस्था के लिए विधानसभा क्षेत्र में 32 सेक्टर एवं पुलिस मोबाइल चलाई जा रही हैं, सभी मोबाइल अपने क्षेत्र में सघन पेट्रोलिंग कर स्थिति पर नजर रखेगी।

नाकाबंदी के लिए आठ स्थाई निगरानी दल तैनात
पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से नाकाबंदी कर दी है। विधानसभा क्षेत्र में आठ स्थाई निगरानी दल तैनात किए हैं। यह दल चैकिंग पॉइंट पर बाहरी वाहनों की सघन चैकिंग कर रहे हैं। तीन उडऩदसता (एफएसटी) की टीम सक्रिय हैं। क्षेत्र में वीडियो निगरानी दल भी मुस्तैद तैनात किए गए हैं। आकस्मिक स्थिति से निपटने के लिएचासर क्यूआरटी (क्विक रिस्पॉस टीम) केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस बल के साथ तैनात की गई हैं।
मुख्यालय से मिलीं दो कंपनी और 200 पुलिस जवान
लोकसभा चुनाव के मतदान के दौरान सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस मुख्यालय द्वारा आईटीबीपी की दो कंपनी, विशेष सशस्त्र बल की दो कम्पनी के साथ करीब 200 पुलिस कर्मी चुनाव व्यवस्था के लिए सीहोर जिले को मिले हैं। जिले से जिला बल एवं होमगार्ड का 800 पुलिसकर्मियों का बल लगाया गया है। कुल मिलाकर सम्पूर्ण सुरक्षा व्यवस्था के लिए करीब डेढ़ हजार का पुलिस बल तैनात किया गया है।

बरसों से सिद्धि गंज खाचरोद तक सड़क बनने की मांग को लेकर ग्रामीण हमेशा से परेशान रहे जिसको लेकर ग्राम बापचा बरामद के ग्रामीणों द्वारा आज सुबह से ही चुनाव का बहिष्कार किया गया जिसकी खबर लगती आला अधिकारियों में हड़कंप मच गया सीईओ जनपद के वहां पहुंचने पर ग्रामीणों ने कलेक्टर के आने पर ही अपनी बात रखने को कहा जिस पर अपर कलेक्टर श्री चतुर्वेदी और एडिशनल एसपी समीर यादव मौके पर पहुंचे वह ग्रामीणों को समझाए समझाइश के बाद ग्रामीणों ने मतदान शुरू कर दिया है किसी भी सूचना मिली दर खेड़ा के चौकीदार को अचानक सीने में दर्द चालू हो गया जिसे उपचार के लिए जावर चिकित्सालय में भर्ती कराया गया दोपहर 1:00 तक 52.35% मतदान पूर्ण हो चुका था किसी प्रकार की अप्रिय घटना की सूचना नहीं थी

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!