Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : त्याग से महान बनेगा यह देश-सुश्री वर्षा

0 5

त्याग से महान बनेगा यह देश-सुश्री वर्षा नागरएसबीएस स्कूल के सामने चल रही है पांच दिवसीय श्रीराम कथा फोटो सुश्री वर्षा नागर कथा श्रवण कराते हुए फोटो श्री राम कथा श्रवण करते हुए श्रद्धालुगणआष्टा। बुधवार को संत सुश्री वर्षा नागर की पांच दिवसीय श्रीराम कथा 25 दिसंबर बुधवार से  एसबीएस हायर सेकंडरी स्कूल के सामने परिसर में प्रारंभ हुई । इस दौरान सर्वप्रथम संतश्री ने नगर के प्राचीन शंकर मंदिर,राम मंदिर एवं खेड़ापति मंदिर में जाकर भगवान की पूजा- अर्चना कर संतश्री को शोभायात्रा नगर के प्रमुख मार्गो से गाजे -बाजे के साथ निकाली गई ।       एसबीएस स्कूल परिसर के सामने  आयोजित श्रीराम कथा में संत सुश्री वर्षा नागर ने कथा के प्रथम दिवस युग प्रवर्त्तक त्याग की मूर्ति रत्ना एवं तुलसीदास जी के जीवन की अनेक बातें बताई।साथ ही कहा कि यदि रत्ना त्याग नही करती तो रामायण जैसे महाकाव्य की रचना नही होती ।इसी संदर्भ में वर्तमान परिदृश्य में कहा कि आज भी देश निर्माण के लिए त्याग की आवश्यकता हैं। संत वर्षा नागर ने सत्संग और कली काल युग में उद्धार के लिए तुलसी पूजन के महत्व पर प्रकाश डाला। आपने कहा  कि वर्तमान में देश निर्माण में आज पुरुषों का जहां योगदान हैं, वहीं उनके बराबर ही मातृशक्ति का भी हैं ।यदि देश को सुचारू रूप से चलाना हैं तो गाड़ी के दोनों पहियों को एक साथ मजबूती के साथ चलना ही होगा।       भक्तजन बड़ी संख्या में मौजूद रहेइस अवसर श्रीराम कथा को श्रवण करने के  लिए बड़ी संख्या में भक्तजन प्रमुख रूप से वीरेंद्र सिंह ,नारायणसिंह ,कमलसिंह , मेहरबानसिंह ,गोपालसिंह ,मधुसूदन पाठक,सुरेंद्रसिंह  पटेल,विश्रामसिंह 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!