Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा/जावर : ज्ञापन के माध्यम से 24 घंटे के अल्टीमेटम देने के 2 घँटे बाद ही प्रशासन आया हरकत में तहसीलदार पहुचे पीड़ित किसानों के खेत पर।

0 0

किसानों के सम्मान में अखिल भारतीय बलाई महासंघ मैदान में

https://youtu.be/QnaYvKrQPBg

ज्ञापन के माध्यम से 24 घँटे के अल्टीमेटम देने के 2 घँटे बाद ही प्रशासन आया हरकत में तहसीलदार पहुचे पीड़ित किसानों के खेत पर

सीहोर,जावर:-
किसानों के ऊपर ,विगत कुछ वर्षों से प्राकृतिक आपदाओं के साथ साथ ,खाद बीज बेचने खरीदने पर काफी नाइंसाफी होती रही है और ऊपर से गरीब किसान हो और कोई रसुखदार अपने पद का ग़लत इस्तेमाल करके किसी को परेशान करे तो उस किसान का भगवान ही मालिक है । इसी कडी में सिहोर जिले की जावर तहसील के ग्राम पिपलिया सलारसी (पिपलिया जागीर) के कृषक जाती बलाई जिनकी भूमि ग्राम बादा गुराड़िया में सिंचित भूमि है । वहाँ पर ग्राम पंचायत के सरपंच पति श्री तेजसिंह पिता ओंकार सिह के द्वारा ग्राम सड़क योजना के तहत दलित समुदाय के कृषकों की निजी भूमि में रात में रोड का काम चालू किया गया । और दलित कृषकों की निजी भूमि में रोड निकाला गया और खेत मे स्थिक सिचाई हेतु होल (बोर) को रात में jcb से तोड़ दिया गया यह उक्त घटना दिनांक 01/06/2019 की रात की है। जिमसें दलित समुदाय के कृषकों द्वारा दिनांक 4 जून को श्रीमान कलेक्टर महौदय सिहोर, श्रीमान तहसीलदार महोदय जावर , श्रीमान अनुविभागीय अधिकारी महोदय आष्टा , श्रीमान थानां प्रभारी महोदय जावर को आवेदन देकर कार्यवाही के लिए आवेदन दे दिया गया था । लेकिन प्रसाशन द्वारा कोई कार्यवाही नही की गई ।इसकी जानकारी पीड़ित किसानों ने कल विद्यार्थी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री अमरीश बिजोनिया को बताई गई थी । जिस पर प्रदेश अध्यक्ष अमरीश बिजोनिया द्वारा रात में ही फोन पर चर्चा करके महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मनोज परमार जी को सम्पूर्ण घटना क्रम बताया गया। राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मनोज परमार जी ने विद्यार्थी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष श्री अमरीश बिजोनिया को आदेश दिया कि आप तहसीलदार महोदय जी को ज्ञापन देकर जक्त घटना के बारे में बताओ साथ ही सीहोर कलेक्टर महोदय एवं मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री महोदय को भी ज्ञापन के माध्यम से अवगत कराएं। जिस पर आज अखिल भरतीय बलाई महासंघ के नेतृत्व ज्ञापन दिया गया । ज्ञापन में 24 घँटे के अंदर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की जाए एवं निर्माण कार्य रुकवाया जाए ज्ञापन में महासंघ के पदाधिकारि, भीम आर्मी, एवं पीड़ित किसानों के साथ बड़ी संख्या में समाज जन उपस्थित थे । जिसपर प्रशासन तुरन्त हरकत में आ गया और ज्ञापन देने के 2 घँटे बाद ही तहसीलदार महोदय श्री रत्नेश श्रीवास्तव जी अपनी टीम के साथ पीड़ित किसानों के खेत पर पहुचे और यह आश्वासन दिया कि आपके साथ न्याय किया जायेगा दोषियो के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी । कल एक दल गठित करके सम्पूर्ण मामले की जांच की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!