Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : ग्रीन फील्ड कॉलेज आष्टा में राष्ट्रीय सेवा योजना में वृक्षारोपण पर संगोष्ठी आयोजित की।

0 0

ग्रीन फील्ड कॉलेज आष्टा में राष्ट्रीय सेवा योजना में वृक्षारोपण पर संगोष्ठी आयोजित की।
आष्टा । ग्रीन फील्ड कॉलेज आष्टा द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना के द्वारा वृक्षारोपण को बढावा देने के लिए एक दिवसीय संगोष्ठि आयोजित की।जिसमें संस्था के डायरेक्टर धमेंद्र गौतम, कॉलेज मैनेजमेंट प्रभारी नसीम अली एवं राष्ट्रीय सेवा योजना प्रभारी लक्ष्मीनारायण सेन ने संगोष्ठि में अपने विचार व्यक्त किये। लक्ष्मीनारायण सेन ; छै द्ध ने कहा कि हमारे देष में वृक्षारोपण आज ही नहीं अपितु पूर्वकाल से ही चला आ रहा है। वृक्षों को देवस्वरूप माना जाता रहा है। नीम, आम, पीपल, आंवला, बरगद, आदि को षास़्त्रों के हिसाब से पूज्यनीय बताया गया है। पौधों का चयन, रोपण का स्थान, इस योजना का मुख्य उद्वेष्य हरियाली को बढावा देना। वृक्षों की सुरक्षा के लिए लोगों को षामिल करना, वातावरण को प्रदुषण मुुफत करना एवं लोगों की सहभागिता सुनिष्चित करना इसका मुख्य उद्वेष्य है। डायरेक्टर धमेंद्र गौतम ने कहा कि वृक्षों के माध्यम से हमें प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष लाभ मिलते है। वृक्षों में औषधीय गुणों का खजाना होता है। हमारे देष की संस्कृति का प्रारंभ वनों से ही हुआ। अर्थात वृक्षों के रोपण की हमारे जीवन को सुखी एवं संतुलित बनाये रख सकता है। यह विचार कॉलेज में छै ( राष्ट्रीय सेवा योजना ) की गोष्ठी में रखा गया। जिसमें सभी स्टॉफ उपस्थित थे। सभी ने 5-5 वृक्ष लगाने का संकल्प भी लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!