Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा: कोरोना वायरस से डरने की आवश्यकता नही वरन सावधानी बरतने की आवश्यकता है-डॉ. इंदौरिया

0 39

शाहिद भगतसिंह स्नातक महाविद्यालय आष्टा में रेडक्रॉस के अन्तर्गत महाविद्यालय में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया जिसके अन्तर्गत डॉक्टर्स की टीम महाविद्यालय में आयी जिन्होने छात्र/छात्राओं को स्वास्थ्य संबंधी जानकारी दी।
डॉ.अर्चना सोनी में इस अवसर पर कहा कि आप संतुलित खाना खायें ताकि आपके शरीर में किसी तत्व की कर्मी न हो तभी आप स्वस्थ्य रहेंगे। नमक, शक्कर, मैदा ये तीनों जहर है इसका सेवन न करे। डॉ.सोनी ने बताया कि बच्चा जब माँ के पेट में रहता है उसके जन्म से एक हजार दिन उसके विशेष पोषण की आवश्यकता होती है। अतः तीन साल तक उसके खान-पान पर विशेष ध्यान देने की आवश्यकता होती है। जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है। डॉ.सोनी ने बताया कि किसी भी बीमारी से बचने का सबसे अच्छा उपाय है आप सावधानी बरते जिससे रोग आप तक आ ही न पायें।
डॉ.मुकेश इन्दौरिया ने इस अवसर पर कहा कि मैं हमेशा मेडिकल कॉलेज में जाता हूँ प्रथम बार किसी डिग्री कॉलेज में आया हूँ यहाँ आकर आपके बीच अत्यन्त हर्ष का अनुभव हो रहा है। डॉ. इन्दौरिया ने कोरोना वायरस पर जो विभिन्न भ्रांतियाँ है उनका समाधान छात्र/छात्राओं को बताया उन्होने कहा इससे डरने की आवश्यकता नही वरन सावधानी बरतने की आवश्यकता है। आप स्वच्छ रहे कहीं से आने के बाद हाथ धोंये अपने आस-पास स्वच्छता रखें सावधानी बरतकर हम इसे किसी भी रोग को अपने आने तक रोक सकते है।
डॉ.सीमा इन्दौरिया ने इस अवसर पर कहा कि छात्राओं में आयरन की कमी जो है उसके लिये आप अस्पताल या आँगनबाड़ी से सम्पर्क करें व अपने महाविद्यालय में आयरन की टेबलेंट उपलब्ध कराये। सप्ताह में एक बार आयरन टेबलेट ले। इससे और अच्छा ये होगा कि आप अपने खान-पान पर विशेष ध्यान रखें संतुलित व पौष्टिक भोजन खाये जिससे सभी आवश्यक तत्व आपके शरीर में पहुंचे। जिससे आप लोगो में जो एमिमिया की समस्याएं को दूर किया जा सकता है।
रेडक्रॉस प्रभारी डॉ.ललिता राय श्रीवास्तव ने इस अवसर पर कहा कि रेडक्रॉस दिवस 8 मई को मनाया जाता है लेकिन उस समय महाविद्यालय में परीक्षाएँ चलती है इसलिये हम इस पूरे सप्ताह रेडक्रॉस की गतिविधियों को संचालित करेंगे जिसके अन्तर्गत रक्त परीक्षण, रक्तदान शिविर, जागरुकता रैली आदि का आयोजन महाविद्यालय में किया जायेगा।
डॉ.राय ने कहा कि रेडक्रॉस एक अन्तराष्ट्रीय गैरकानून संगठन है जो युद्ध में घायल सैनिकों के उपचार तथा रक्तदान केन्द्रों की स्थापना के साथ-साथ स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं भी उपलब्ध करता है। विश्व के एक सौ नब्बे देश व एक करोड़ सतरह लाख स्वयंसेवक इससे जुड़े है। रेडक्रॉस एक मानवतावादी संगठन है।
कार्यक्रम में श्रीमती किरण राँका, डॉ.बेला सुराणा, डॉ.सीमा त्रिवेदी, कु.अनमोल सोनी व बड़ी संख्या में छात्र-छात्राएँ उपस्थित थे। आभार प्रदर्शन श्री विनोद पाटीदार ने किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!