Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : एक बार फिर तेंदुए की दहशत, सोशल मीडिया पर युवकों ने डाले फ़ोटो, पाडलिया से खेड़ापति मंदिर के बीच देखे जाने का दावा

0 4

आष्टा : एक बार फिर तेंदुए की दहशत, सोशल मीडिया पर युवकों ने डाले फ़ोटो, पाडलिया से खेड़ापति मंदिर के बीच देखे जाने का दावा।


आष्टा नगर में एक बार फिर आम जन दहशत में है , कुछ लोगो का सोशल मीडिया पर यह दावा है कि उन्होंने खेतो की तरफ तेंदुए को देखा है कई युवाओ ने तो उसके फोटो भी सोशल मीडिया पर पोस्ट किए है।

-: युवक द्वारा तेंदुआ होने का दावा :


एक ग्रुप में युवक ने यह लिखकर फ़ोटो पोस्ट किए है कि खेड़ापति मंदिर के समीप उसने तेंदुए को देखा उसी वक्त के फोटो शेयर किए है।

-: युवा नेता कालू भट्ट के अनुसार :-


वही युवा भाजपा नेता जो रोज़ खेड़ापति मंदिर जाते है उन्होंने भी तेंदुए के फुट मार्क के फोटो सांझा किये है और आम जन से रात्रि में खेडापति तालाब की और नही जाने को कहा है।

पाडलिया निवासी के अनुसार

पाडलिया निवासी एक किसान ने कुछ दी पूर्व भी तेंदुए की बात आष्टा थानाप्रभारी से कही थी जिसपर गभीरता दिखाते हुए थानाप्रभारी द्वारा फारेस्ट की टीम भेजी गई थी किंतु हमेशा की तरह फारेस्ट अधिकारियों ने लक्कड़बग्घा होने की बात कहकर मामले को रफादफा कर दिया था।

 

खेडापति मंदिर पुजारी द्वारा किया गया दावा।

खेडापति मंदिर पर पुजारी द्वारा बताया गया कि पास ही बनी छतरी के पास बने नाले में रात को उन्होंने किसीकी आंखे चमकती हुई देखी जैसे ही उनके द्वारा ध्वनि की गई तो वह से चल गया ,सुबह तेंदुए जैसे फुट मार्क देखे तब पता चला ।

अगर इन दावों को सही माना जाए तो वन विभाग के अधिकारियों ने इसे गंभीरता से लेना अति आवश्यक है क्योंकि जहा के दावे किए जा रहे है वह स्थान रिहायशी इलाकों के आसपास के और नगरीय सिमा के है ,हालांकि वन विभाग के पास अब तक तेंदुए को पकड़ने के कोई संसाधन उपलब्ध नही है अब देखना यह है कि इस चुनौती से वन विभाग कैसे निपटता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!