Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा : आदर्श नागरिक बनाने में शिक्षको का महत्वपूर्ण योगदान

0 0

आदर्श नागरिक बनाने में शिक्षको का महत्वपूर्ण योगदान
शिक्षक उन्मुखीकरण कार्यशाला संपन्न
सभ्य समाज एंव आदर्ष नागरिक बनानें में षिक्षको का महत्वपूर्ण योगदान होता हैं, षिक्षक समुदाय ही समाज में व्याप्त सामाजिक कुरुतियों के उन्मुलन को समाप्त कर सकते हैं एंव षिक्षा ही एकमात्र उपाय हैं जिससे सामाजिक भेदभाव, आथि्र्ाक असमानता एंव जेण्डर आधारित भेदभाव को कम किया जा सकता हैं उक्त विचार प्रतिक्षा पेलेस में युवा विकास मण्डल संस्था द्वारा संचालित षिक्षा एंव गरिमा तक पहॅंच कार्यक्रम के तहत आयोजित षिक्षकों की एक दिवसीय कार्यषाला के दोरान सामाजिक कार्यकर्ता राजेन्द्र सिंह ने व्यक्त किऐं । उन्होने कहा की आज भी कई वंचित समुदाय ऐसे हैं जिनकी षिक्षा तक पहॅूंच नही हैं ऐसे समुदायों की गरिमा के साथ षिक्षा तक पहॅूंच सुनिष्चित करना हम सब की सामुहकि जिम्मेदारी हैं ।
षिक्षा में नवाचार एंव भाषा पर काम हों
कार्यक्रम में स्रोत व्यक्ति के रुप में उपस्थित राहूल दसौंधी नें उपस्थित षिक्षको से षिक्षा में नवाचार एंव भाषा पर जोर देकर विभिन्न आयामों के माध्यम से वंचित समुदाय के बच्चों को केसे स्कूली षिक्षा से जोडा जा सकता हैं एंव उनकी समझ को केसे विकसित किया जा सकता हैं उसपर गहन चर्चा की जिससे बच्चों के सिखने की प्रक्रिया ओर सहज ओर सरल की जा सकती हैं ।
बाल अपराधों को रोकने में सहायक बने
कार्यक्रम से जुडें कमलेष पांडेय एंव लखन वेद ने उपस्थित षिक्षकों सें बाल अपराधों को रोकने में सहायक जानकारियों पर चर्चा की जैसें स्कूलों में गुड टच बेड टच, इमरजेंसी एंव शासकीय हेल्पलाईन नम्बरों की जानकारी सहित लैंगिक बाल अपराधों से सुरक्षा का अधिनियम के क्रियान्वयन की उपयोगिता पर विस्तृत चर्चा की । कार्यक्रम में जिले के 20 गामों के षिक्षकों नें भाग लिया इस अवसर पर सोभाल सिंह बडोदिया ब्लाक समन्वयक, विषाल उइके, रोहित सिंह,प्रेम चन्द्र एंव धर्मेन्द्र बामनिया भी उपस्थित रहें

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!