Take a fresh look at your lifestyle.

आष्टा:सागा और चचेरे भाई नीकले पवन के कातिल, पुलिस की मेहनत रंग लाई,अति.पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव ने पी.सी. में किया खुलासा।

0 4

मृतक पवन जायसवाल के नरकंकाल के हत्या काण्ड का पर्दाफाश
दिनाक 12.11.19 को फरियादी लखनसिह जायसवाल पिता भैरूसिह उम्र 45 साल निवासी मेवाडा कालोनी ने थाना आकर रिपोर्ट किया कि । मै दिनाक 11.11.19 को मै ठेला लेकर गल्ला मंडी आ गया था जब शाम को घर गया तो देखा कि मेरा छोटा लडका पवन घर पर नही था मेने मेरे बडे लडके लोकेन्द्र से पुछा तो वह बोला पापा पवन शाम 04 बजे घर से दोस्त के घर जाने का बोल कर कही चला गया है साथ मै अपनी नयी मोटर साईकल एचएफ डिल्कस जो बिना नम्बर कि है जिसका अभी रजीण् नम्बर नही आया है

साथ मे विवो कम्पनी का वाय 15 जिसमे 7898357955 एयरटेल कि सिम लगी है जिसको मेने फोन लगाया फोन बंद आया फिर मे आसपास तलाश किया नही मिला । जिसकी तलाश मैंने रिश्तेदारों व परिवार के लोगो ने किया पता नही चला । पवन का हुलिया कद करीब 5 फिट ,,बाल काले , काली पेंट व सफेद शर्ट पहने हुए है। जिसको कोई अज्ञात व्यक्ति अपहरण कर कही ले गया है की रिपोर्ट पर थाना आष्टा मे अपराध पजीबध्द कर अनुसधान मे लिया गया। द्वौराने विवेचना ईच्छावर थाना क्षेत्र मे दिनाक 16.11.19 को एक नरकंकाल मिला था। जिस पर आसपास के क्षेत्र मे भय का वातावरण व्याप्त हो गया था। जिस पर थाना इच्छावर मे मर्ग कायम कर जाँच मे लिया गया। जिस पर थाना आष्टा मे अपह्त बालक पवन के परिजनो ने उस नरककाल के पास पडे कपडो एव वस्तुओ से उसे अपने अपह्त बालक पवन के रुप मे किया। जिस पर थाना आष्टा मे हत्या एव अपहरण की धाराओ के अन्तर्गत मृतक पवन के कातिलो के तलाश पतारसी हेतु श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय सीहोर श्री शशेन्द्र चौहान द्वारा अतिण्पुलिस अधीक्षक सीहोर श्री समीर यादव के मार्गदर्शन मे एव अनुण्विभागिय अधिकारी आष्टा के नेत्तत्व मे एक टीम गठीत कि गई जिसमे थाना प्रभारी आष्टा सुश्री अरूणा सिह उनि अविनाश भोपले उनि उपेन्द्र पाराशर आर 131 अमित आर शैलेन्द्र आर जितेन्द्र आर सुशिल साल्वे आर शैलेन्द्र राजपुत शामिल किया। घटना दिनाक से सीहोर पुलिस मृतक पवन के मोबाईल एव मोण्सा एव आरोपी की तलाश कर रही थी। आष्टा पुलिस द्वारा अनुसंधान मे मृतक के परिजनो से पुछताछ किया जिन से कोई विशेष जानकारी प्राप्त नही हो रही थी। सुत्रो से पता चला की मृतक पवन जायसवाल का एक चचेरा भाई जो गुजरात मे रहता है।उसकी भुमिका संदिग्ध थी एवं पूर्व मे भी उसके ऊपर आपराधिक प्रकरण कायम हैए मृतक पवन जायसवाल के चचेरे भाई शुभम जायसवाल की तस्दीक हेतु आष्टा पुलिस ने एक टीम गुजरात रवाना किया जहा से पता चला कि मृतक पवन जायसवाल का चचेरा भाई अपने घर आष्टा आ गया है। मुखबिर की सूचना पर दिनाक 20.12.19 को दबिश दे कर मृतक पवन के चचेरे भाई शुभम जायसवाल पिता गजराज सिह जायसवाल उम्र 22 साल निवासी इन्द्रा कालोनी से पुलिस द्वारा पुछताछ किया जिसने बताया कि मृतक पवन जायसवाल की हत्या का षडयन्त्र उसके चाचा के लडके शुभम एव अन्य भाई {नाबालिक} ने मिल कर की । दोनो मृतक पवन जायसवाल की हरकतो के कारण काफी परेशान थे। जिसके चलते दोनो भाईयो ने मिल कर पवन जायसवाल की हत्या कर घटना को अन्जाम दिया। आष्टा पुलिस द्वारा मृतक पवन जायसवाल की गुम मोटर साईकल एव मोबाईल को भी आरोपीगणो से बरामद कर आरोपी गणो को गिरफ्तार करने मे सफलता हासिल की गई।
गिरफ्तार आरोपीगणो के नामः.
शुभम जायसवाल पिता गजराजसिह जायसवाल उम्र 22 साल निवासी इन्द्राकालोनी आष्टा

पुलिस अधीक्षक सीहोर द्वारा गठीत टीम जिनका सराहनीय कार्य रहा
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव, अधिकारी आष्टा श्री विरेन्द्र मिश्रा के नेत्रत्व मे थाना प्रभारी आष्टा सुश्री अरूणा सिह उनि अविनाश भोपले उनि उपेन्द्र पाराशऱ आर 131 अमित आर739 शैलेन्द्र आर126 जितेन्द्र आर 907सचिन आर 102शैतान आर 230 शिवराज आर 258 शैलेन्द्र राजपुत आर 262 सुशिल साल्वे एवं सायबर सेल सीहोर एवं आष्टा के आम जनता की अहम भुमिका रही । पुलिस अधीक्षक महोदय सीहोर श्री शीशेन्द्र चौहान द्वारा उक्त टीम को ईनाम देने की घोषणा की गई।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!